बिहार चुनाव महागठबंधन: RJD का 2015 का सीट फॉर्मूला CPI माले ने ठुकराया

Smart News Team, Last updated: 18/09/2020 04:46 PM IST
  • सीपीआई माले ने लालू यादव और तेजस्वी यादव की अगुवाई वाले आरजेडी कांग्रेस महागठबंधन के सीट बंटवारे फॉर्मूले को ठुकरा दिया है. सीपीआई एमएल के सामने राजद ने सीटों का जो प्रस्ताव रखा था उसे उसे पार्टी के महासचिव दीपांकर भट्टाचार्य ने खारिज कर दिया है.
RJD का 2015 का सीट फॉर्मूला CPI माले ने ठुकराया

पटना. सीपीआई माले ने आरजेडी और कांग्रेस के महागठबंधन में सीट शेयरिंग फॉर्मूले को ठुकरा दिया है. सीपीआई माले के सामने महागठबंधन की तरफ से सीट बंटवारे का जो प्रस्ताव आया था उसे उसे पार्टी ने स्वीकार नहीं किया है. पार्टी महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने कहा है कि 2015 के चुनाव के आधार पर तालमेल कभी नहीं हो सकता है. 

दीपांक भट्टाचार्य ने कहा कि परिस्थितियां और गठबंधन दोनों अलग हैं. लिहाजा नए सिरे से विचार करना होगा. आज हमारे पास प्रस्ताव भेजा गया है कि 2015 के चुनाव के आधार पर तालमेल किया जाए. पार्टी ने इस प्रस्ताव को खारिज कर राष्ट्रीय जनता दल को पत्र भेज दिया है और हम निचले स्तर तक चुनाव की तैयारी में जुट गए हैं.

बिहार चुनाव: संबित पात्रा का RJD पर निशाना, कहा- लालटेन में ना तेज है ना प्रताप

गौरतलब है कि बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर हलचल तेज हो गई है. ऐसे में बिहार में महागठबंधन के रूप में आरजेडी सभी विपक्षी पार्टियों की एकता बनाने की कोशिश कर रही है. 2015 में सीपीआई एमएल महागठबंधन के साथ थी. इस बार सीटों के बंटवारे पर दोनों पार्टियों के बीच एक राय नहीं बन पा रही थी. 

अब खुद सीपीआई एमएल महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने कह दिया है कि पार्टी ने आरजेडी को पत्र भेजकर बता दिया है कि सीट बंटवारे का वो फॉर्मूल नहीं चलेगा. कुछ दिन पहले ही जीतनराम मांझी की पार्टी हम ने भी महागठबंधन छोड़ दिया था. चर्चा है कि मुकेश सहनी भी एनडीए के पाले में जाने को तैयार बैठे हैं.

पटना को मिला इंटरस्टेट बस टर्मिनल, CM नीतीश कुमार आज करेंगे उद्घाटन

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें