बिहार में 7 जून को BJP, JDU और RJD के इस चुनावी महासंग्राम का पहला दिन

Smart News Team, Last updated: Wed, 3rd Jun 2020, 6:49 PM IST
  • बिहार विधानसभा चुनाव में अभी कुछ वक्त है लेकिन कोरोना लॉकडाउन के कारण थमी राजनीतिक तैयारियां अचानक तेज हो गई हैं। 7 जून को बिहार में सत्तारूढ़ जेडीयू, बीजेपी और विपक्षी आरजेडी तीनों की तरफ से वर्चुअल रैली से लेकर विरोध दिवस मनाने का ऐलान कर दिया गया है।
7 जून को अमित शाह वर्चुअल रैली करेंगे तो नीतीश कुमार पार्टी कार्यकर्ताओं से बात करेंगे। तेजस्वी यादव सरकार चला रही बीजेपी और जेडीयू के खिलाफ गरीब अधिकार दिवस मनाएंगे।

पटना। बिहार विधानसभा के अक्टूबर-नवंबर में होने वाले चुनाव से पहले पटना में राजनीतिक हलचल अचानक तेज हो गई है। कोरोना से मुकाबले के लिए देशव्यापी लॉकडाउन की वजह से ठप पड़ी राजनीतिक गतिविधियां जोर पकड़ने लगी हैं। 7 जून को बिहार के विधानसभा चुनाव के लिहाज से बीजेपी, जेडीयू और आरजेडी के बीच महामुकाबला है। 

एक तरफ केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह वर्चुअल रैली करके पार्टी के प्रचार अभियान का श्रीगणेश करेंगे तो दूसरी तरफ सीएम और जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार बूथ लेवल तक पार्टी कार्यकर्ताओं से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात करेंगे। विपक्षी आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने विरोध में गरीब अधिकार दिवस मनाने का ऐलान किया है।

गृहमंत्री अमित शाह पहले 9 जून को वर्चुअल रैली के जरिए बिहार को संबोधित करने वाले थे लेकिन अब ये कार्यक्रम 7 जून को रखा गया है। नीतीश कुमार 7 जून से 6 दिन चलने वाले वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की शुरुआत करेंगे जिसके जरिए वो 38 जिलों के कार्यकर्ताओं से रूबरू होंगे। आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने गरीब अधिकार दिवस मनाने का ऐलान किया है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें