संजय जायसवाल ने राहुल गांधी को भेजी गीता, कहा- हिंदुत्व को लेकर कंफ्यूजन दूर करें

Somya Sri, Last updated: Sun, 14th Nov 2021, 2:12 PM IST
  • बिहार भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर संजय जयसवाल ने प्रदेश मुख्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान आज राहुल गांधी को गीता पुस्तक पोस्ट की है. इस दौरान उन्होनें कहा कि हिंदुत्व को लेकर राहुल गांधी का कंफ्यूजन दूर हो और झूठ व दुष्प्रचार की आदत छूटे इसलिए उन्हें श्रीमद्भागवत गीता पुस्तक तोहफे के रूप में पोस्ट की गई है. कांग्रेस सलमान खुर्शीद की किताब में हिंदुत्व की तुलना आतंकी संगठन से किए जाने के बाद से बीजेपी लगातार कांग्रेस पर हमलावर है.
संजय जायसवाल ने राहुल गांधी को भेजी गीता, कहा- हिंदुत्व को लेकर कंफ्यूजन दूर करें (फोटो साभार- लाइव हिदुस्तान)

पटना: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद की किताब में हिंदुत्व की तुलना आतंकी संगठन से किए जाने से भड़की भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को श्रीमद्भागवत गीता भेजी है. बिहार भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर संजय जयसवाल ने प्रदेश मुख्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान आज राहुल गांधी को गीता पुस्तक पोस्ट की है. इस दौरान संजय जायसवाल ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जिस तरह से राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस हिंदुत्व पर हमले कर रही है वैसी परिस्थिति में उन्हें हिंदुत्व का ज्ञान देना जरूरी हो जाता है. उन्होंने कहा कि हिंदुत्व को लेकर उनका कंफ्यूजन दूर हो और झूठ और दुष्प्रचार की आदत छूटे इसलिए उन्हें श्रीमद्भागवत गीता पुस्तक तोहफे के रूप में पोस्ट की गई है.

देश के सबसे बड़े कंफ्यूज नेता हैं राहुल गांधी- संजय जायसवाल

संजय जायसवाल ने कहा, "कभी कभी झूठ और दुष्प्रचार में आकंठ डूबे लोगों को सत्य का ज्ञान देना जरूरी हो जाता है. राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस जिस तरह से हिंदुत्व पर हमले कर रही है, वैसी परिस्थिति में उन्हें हिंदुत्व का ज्ञान देना जरूरी हो जाता है. हम जानते हैं कि राहुल देश के सबसे बड़े कंफ्यूज नेता है. इसीलिए इतने दिनों तक देश में राजनीति करने और मंदिर-मंदिर घुमने के बावजूद उन्हें हिंदुत्व का रत्ती भर भी ज्ञान नहीं हो पाया है. उनका यह कंफ्यूजन दूर हो और उनकी झूठ व दुष्प्रचार की आदत छूटे, इसीलिए हम आज उन्हें श्रीमदभागवत गीता की प्रति भेंट स्वरूप पोस्ट कर रहे हैं."

बिहार में इन महिलाओं को नीतीश सरकार देगी एक- एक लाख रुपये, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

हिंदू धर्म का विरोध कांग्रेस के डीएनए में है

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा, "हिन्दू धर्म का विरोध शुरुआत से ही कांग्रेस के डीएनए में रहा है. महज 24 घंटे के भीतर कांग्रेस के तीन कद्दावर नेताओं द्वारा हिन्दू समाज को अपशब्द कहना उनकी इसी घृणित सोच का हिस्सा है. हमने पहले ही कहा था कि हिन्दुओं के खिलाफ यह जहरीली बयानबाजी सीधे गांधी परिवार के हुक्म से हो रही है, जिसे राहुल गांधी ने बयान देकर सच साबित कर दिया है."

राहुल गांधी ने हिंदुत्व और हिन्दुइज्म को बताया अलग

उन्होंने कहा," राहुल पहले भी ऊल-जुलूल और झूठे बयान देकर यह जाहिर कर चुके हैं कि वह दुष्प्रचार के सुपरस्टार हैं, लेकिन हिंदुत्व और हिन्दुइज्म को अलग-अलग बता कर उन्होंने मूढ़ता की सारी सीमाओं को लांघ दिया है. एक पांच साल का बच्चा भी यह जानता है कि हिंदुत्व और हिन्दुइज्म में कोई फर्क नहीं होता. इनमें केवल भाषा का अंतर है जैसा भारत और इंडिया में है. लेकिन धान और गेंहूं में भी अंतर न जानने वाले राहुल गांधी ने इसमें भी फर्क खोज कर अपनी ‘बुद्धिमानी’ का ही परिचय दिया है. अब डर इस बात का है कि कहीं वह कल को दिवाली और दीपावली को भी अलग-अलग न बताने लगे."

पटना: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद की किताब में हिंदुत्व की तुलना आतंकी संगठन से किए जाने से भड़की भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को श्रीमद्भागवत गीता भेजी है. बिहार भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर संजय जयसवाल ने प्रदेश मुख्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान आज राहुल गांधी को गीता पुस्तक पोस्ट की है. इस दौरान संजय जायसवाल ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जिस तरह से राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस हिंदुत्व पर हमले कर रही है वैसी परिस्थिति में उन्हें हिंदुत्व का ज्ञान देना जरूरी हो जाता है. उन्होंने कहा कि हिंदुत्व को लेकर उनका कंफ्यूजन दूर हो और झूठ और दुष्प्रचार की आदत छूटे इसलिए उन्हें श्रीमद्भागवत गीता पुस्तक तोहफे के रूप में पोस्ट की गई है.

देश के सबसे बड़े कंफ्यूज नेता हैं राहुल गांधी- संजय जायसवाल

संजय जायसवाल ने कहा, "कभी कभी झूठ और दुष्प्रचार में आकंठ डूबे लोगों को सत्य का ज्ञान देना जरूरी हो जाता है. राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस जिस तरह से हिंदुत्व पर हमले कर रही है, वैसी परिस्थिति में उन्हें हिंदुत्व का ज्ञान देना जरूरी हो जाता है. हम जानते हैं कि राहुल देश के सबसे बड़े कंफ्यूज नेता है. इसीलिए इतने दिनों तक देश में राजनीति करने और मंदिर-मंदिर घुमने के बावजूद उन्हें हिंदुत्व का रत्ती भर भी ज्ञान नहीं हो पाया है. उनका यह कंफ्यूजन दूर हो और उनकी झूठ व दुष्प्रचार की आदत छूटे, इसीलिए हम आज उन्हें श्रीमदभागवत गीता की प्रति भेंट स्वरूप पोस्ट कर रहे हैं."

बिहार में इन महिलाओं को नीतीश सरकार देगी एक- एक लाख रुपये, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

हिंदू धर्म का विरोध कांग्रेस के डीएनए में है

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा, "हिन्दू धर्म का विरोध शुरुआत से ही कांग्रेस के डीएनए में रहा है. महज 24 घंटे के भीतर कांग्रेस के तीन कद्दावर नेताओं द्वारा हिन्दू समाज को अपशब्द कहना उनकी इसी घृणित सोच का हिस्सा है. हमने पहले ही कहा था कि हिन्दुओं के खिलाफ यह जहरीली बयानबाजी सीधे गांधी परिवार के हुक्म से हो रही है, जिसे राहुल गांधी ने बयान देकर सच साबित कर दिया है."

राहुल गांधी ने हिंदुत्व और हिन्दुइज्म को बताया अलग

उन्होंने कहा," राहुल पहले भी ऊल-जुलूल और झूठे बयान देकर यह जाहिर कर चुके हैं कि वह दुष्प्रचार के सुपरस्टार हैं, लेकिन हिंदुत्व और हिन्दुइज्म को अलग-अलग बता कर उन्होंने मूढ़ता की सारी सीमाओं को लांघ दिया है. एक पांच साल का बच्चा भी यह जानता है कि हिंदुत्व और हिन्दुइज्म में कोई फर्क नहीं होता. इनमें केवल भाषा का अंतर है जैसा भारत और इंडिया में है. लेकिन धान और गेंहूं में भी अंतर न जानने वाले राहुल गांधी ने इसमें भी फर्क खोज कर अपनी ‘बुद्धिमानी’ का ही परिचय दिया है. अब डर इस बात का है कि कहीं वह कल को दिवाली और दीपावली को भी अलग-अलग न बताने लगे."|#+|

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें