बिहार: सर्दी-जुकाम से पीड़ित स्टूडेंट्स अलग बैठकर देंगे परीक्षा, जानें नियम

Smart News Team, Last updated: Mon, 10th Jan 2022, 8:26 AM IST
  • कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए बिहार सरकार छात्रों को लेकर अलर्ट मोड पर आ गई है. अगर किसी छात्र को बुखार आदि का लक्षण होगा तो ऐसे छात्र को 15 जनवरी के बाद प्रायोगिक परीक्षा ली जायेगी, परीक्षा के पहले हर दिन छात्रों के शरीर का तापमान जांचा जाएगा. इसके साथ ही सर्दी जुकाम वाले छात्र को अलग बैठाकर प्रायोगिक परीक्षा ली जायेगी.
बिहार: छात्रों में सर्दी-जुकाम के लक्षण दिखे तो साथ बैठ कर नहीं अलग से होगी परीक्षा

पटना. कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए बिहार सरकार छात्रों को लेकर अलर्ट मोड पर आ गई है. अगर किसी छात्र को बुखार आदि का लक्षण होगा तो ऐसे छात्र को 15 जनवरी के बाद प्रायोगिक परीक्षा ली जायेगी, परीक्षा के पहले हर दिन छात्रों के शरीर का तापमान जांचा जाएगा. इसके साथ ही सर्दी जुकाम वाले छात्र को अलग बैठाकर प्रायोगिक परीक्षा ली जायेगी.

मालूम हो कि, बिहार इंटरमीडिएट प्रायोगिक परीक्षा 10 से 20 जनवरी तक चलेगी. इसको लेकर तमाम स्कूलों द्वारा तैयारी कर ली गयी है. कोरोना गाइडलाइन के तहत प्रायोगिक परीक्षा ली जायेगी. पटना हाईस्कूल में 350 छात्रों की परीक्षा ली जायेगी. हर दिन 60 बच्चों को बुलाया गया है. पटना कॉलेजिएट हाईस्कूल में चार सौ से अधिक छात्र इसमें शामिल होंगे. स्कूलों द्वारा शेड्यूल जारी कर दिया गया है.

BSEB 12th Exam 2022: होम सेंटर पर ही होगी 12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षा

बता दें कि, मैट्रिक वार्षिक परीक्षा 2022 के इंटरनल मूल्यांकन और प्रायोगिक परीक्षा 20 से 22 जनवरी तक विद्यालयों में आयोजित की जायेगी. इसके लिए सभी सामग्री जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय  एवं प्रधान परीक्षक के औपबंधिक नियुक्ति पत्र भी विद्यालयवार भेजा जा चुका है. सभी स्कूल 13 जनवरी तक सामग्रियों को प्राप्त कर लेंगे. 

BPSSC जल्द जारी करेगा बिहार पुलिस दारोगा भर्ती परीक्षा का Answer Key

पटना हाईस्कूल के प्राचार्य रवि रंजन ने बताया कि जिन छात्रों को थोड़ा भी जुकाम होगा, ऐसे छात्र को अलग कमरे में बैठा कर प्रायोगिक परीक्षा ली जायेगी. ये छात्र एक साथ बैठकर परीक्षा में शामिल नहीं होंगे.

बीएन कॉलेजिएट हाईस्कूल के प्राचार्यविजया लक्ष्मी ने बताया कि हर दिन 50 से 60 छात्रों को 'बुलाया जा रहा है। अगर किसी छात्र का बुखार आदि जांच में पकड़े जाते है तो ऐसे छात्र को बाद में परीक्षा ली जायेगी. शेड्यूल के अनुसार ही बच्चों को बुलाया के गया है. 20 जनवरी को परीक्षा समाप्त होने के बाद 25 जनवरी तक प्रायोगिक परीक्षा का अंक बोर्ड पास भेजा जायेगा.

बिहार बोर्ड ने इंटर की प्रैक्टिकल परीक्षा को लेकर दूर किया भ्रम, जानें कब और कहां होगी आयोजित

परीक्षा बोर्ड में कंट्रोल रूम चालू किया है. यह कंट्रोल रूम नौ से 20 जनवरी तक चालू रहेगा. प्रायोगिक परीक्षा संबंधित किसी तरह की दिक्कतें होने पर सुबह नौ से शाम छह बजे तक कंट्रोल रूम काम करेगा. बोर्ड द्वारा 0612-2232227 हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें