बिहार बोर्ड में 10वीं पास बच्चे 11वीं में क्या स्ट्रीम चुनें, जानें यहां

Smart News Team, Last updated: Mon, 5th Apr 2021, 7:21 PM IST
  • बिहार बोर्ड में 10वीं कक्षा में पास बच्चों को अब 11वीं में स्ट्रीम का चुनाव करना होगा. जिससे उनके करियर की दिशा तय होगी. अक्सर छात्रों को 11वीं में स्ट्रीम चुनने में परेशानी होती है. इसलिए छात्रों को यह जानना जरूरी है कि 11वीं के बाद किस स्ट्रीम के चुनाव से किस क्षेत्र में करियर बना सकते है.
बिहार बोर्ड में 10वीं पास बच्चे 11वीं में क्या स्ट्रीम चुनें, जानें यहां

पटना. सोमवार 5 अप्रैल को बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (BSEB) की ओर से दसवीं के छात्रों के रिजल्ट जारी कर दिए गए है. इसके बाद अब इन छात्रों को 11वीं कक्षा में सब्जेक्ट्स या स्ट्रीम का चुनाव करना होगा. चुनी गई स्ट्रीम के आधार पर ही बच्चों के करियर की दिशा तय होगी कि वे आने वाले समय में किस फिल्ड की तैयारी करेंगे. लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि सिविल सर्विस की तैयारी किसी भी स्ट्रीम का छात्र कर सकता है. सिविल सर्विसेज में स्ट्रीम बाधक नहीं है. लेकिन इसके अलावा अन्य क्षेत्रों में करियर बनाने के लिए 11वीं में विषयों का चुनाव महत्वपूर्ण है.

जिन छात्रों को भविष्य में सोशल वर्क, साहित्य, मनोविज्ञान आदि के क्षेत्र में करियर बनाना है. उन्हें 11वीं में आर्ट्स स्ट्रीम चुनना चाहिए. वहीं इंजीनियर, आईटी, डिफेंस अधिकारी, मैनेजमेंट आदि के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए फिजिक्स, कैमिस्ट्री एवं मैथ्य यानी पीसीएम स्ट्रीम चुनना चाहिए. डॉक्टर या मेडिकल फील्ड में करियर बनाने के लिए छात्रों को 11वीं में फिजिक्स, कैमिस्ट्री व बायोलॉजी यानी पीसीबी स्ट्रीम चुनना चाहिए. इसके अलावा वित्तीय क्षेत्र में करियर बनाने के लिए कॉमर्स स्ट्रीम का चुनाव करना चाहिए.

बिहार बोर्ड मैट्रिक 2021 टॉपर्सः पूजा समेत 3 स्टूडेंट टॉपर, टॉप-10 में 101 छात्र

अक्सर छात्रों एवं परिजनों को अपने बच्चों के लिए स्ट्रीम का चुनाव करने में काफी समस्या होती है. ऐसे में परिजन अपने बच्चों के शिक्षकों से स्ट्रीम को चुनने में मदद ले सकते है. 10वीं कक्षा के परसेंटेज के आधार पर भी छात्र 11वीं कक्षा के लिए सब्जेक्ट का चुनाव कर सकते है. जैसे कि अगर किसी बच्चे के अंग्रेजी एवं गणित में बहुत अच्छे अंक आए है. तो उसके लिए आगे साइंस स्ट्रीम में जाना बेहतर विकल्प होगा. लेकिन इसके साथ ही छात्रों को इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि उन्हें किस चीज में ज्यादा रुचि है.

Bihar Board Result: बिहार बोर्ड मैट्रिक रिजल्ट जारी, यहां चेक करें 10वीं का परिणाम

वहीं जिन छात्रों के 10वीं के रिजल्ट में मैथ एवं इंग्लिश में अच्छे अंक नहीं आए है तो ऐसे में उन्हें 11वीं में आर्ट्स चुनना बेहतर हो सकता है. कई स्कूलों में तो शिक्षक ही छात्रों को रिकमंड करते है कि उन्हें किस स्ट्रीम में एडमिशन लेना चाहिए. इसके अलावा पैरेंट्स अपने बच्चों के लिए इस फैसले में करियर काउंसलर या किसी अनुभवी शिक्षक की भी मदद ले सकते है. इसके साथ ही यह भी ध्यान रखना जरूरी है कि जिन विषयों का चुनाव किया गया है उसमें बच्चे का प्रदर्शन कैसा है. इस हिसाब से उन्हें आगे का फैसला लेना चाहिए.

बिहार बोर्ड रिजल्ट में आते हैं अगर नंबर कम तो ना हो परेशान, करें ये काम

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें