आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा नया पटना कलेक्ट्रेट भवन, CM नीतीश ने किया शिलान्यास

Smart News Team, Last updated: 17/09/2020 10:00 AM IST
  • सीएम नीतीश कुमार ने पटना कलेक्ट्रेट भवन का शिलान्यास कर दिया है. हाईकोर्ट में चल रहे मामले के बाद इस भवन को बनाने के लिए हरी झंडी मिल गई है. यह भवन पहले के मुकाबले अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस होगा.
CM नीतीश कुमार ने पटना में 5 मंजिला कलेक्ट्रेट भवन का किया शिलान्यास

पटना. बुधवार को सीएम नीतीश कुमार ने अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस पटना कलेक्ट्रेट भवन का शिलान्यास किया. इस शानदार भवन को 25 महीने में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है. यह भवन पहले भवन के मुकाबले सभी तरह की आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा. कलेक्ट्रेट का मुख्य भवन 5 मंजिला होगा. इसी मुख्य भवन में डीएम का ऑफिस होगा. इसके आस पास दो और 4 मंजिला भवन बनाए जाएंगे. 

LJP ने नीतीश सरकार से कहा- SC/ST को वादे के मुताबिक जमीन दे फिर दिखाएंगे विश्वास

मुख्य भवन में एक बेसमेंट होगा जिसमें आधुनिक ढंग से पार्किंग की व्यवस्था होगी. इसमें अधिकारियों से लेकर वहां आने वाले आम लोगों को भी गाड़ी पार्किंग की सुविधा मिलेगी. इसके अलावा इस भवन को खास बनाता है इसके खिड़कियों से गंगा का नजारा. भवन के उत्तर दिशा में गंगा दिखेंगी. इसके साथ ही भवन में लाइब्रेरी, वॉर रूम, कॉन्फ्रेंस हॉल और वीआईपी रूम की व्यवस्था होगी.

कौन से कार्यलय कहां होगा नए भवन में- 

1. ग्राउंड फ्लोर- ट्रेजरी, कल्याण अनुभाग और लोक शिकायत अनुभाग, स्ट्रांग रूम, एडीएम कार्यालय

2. पहली मंजिल - नजारत, आईसीडीएस, सामाजिक सुरक्षा,चुनाव, हथियार, सामान्य, आपूर्ति, एसएफसी, अल्पसंख्यक कल्याण, उर्दू

3. दूसरी मंजिल- राजस्व, प्रमाण पत्र, खाता, खनन, आपदा प्रबंधन, योजना, नागरिक सुरक्षा, पीएफ, भूमि अधिग्रहण

4. तीसरी मंजिल- DRDA, कानूनी, DUDA, पंचायत, विकास, रिकॉर्ड कक्ष, अभिलेखागार, सम्मेलन हॉल,प्रोटोकॉल, सार्वजनिक संबंध

5. चौथी मंजिल-स्टोर, कार्यालयों के लिए स्थान आवंटन

6. पांचवीं मंजिल- डीएम कक्ष, डीएम कोर्ट, कॉन्फ्रेंस हॉल, सिटी मजिस्ट्रेट,वॉर रूम, वीसी, एनआईसी,लाइब्रेरी, वीआईपी रूम

शर्मनाक! टीचर को अश्लील इशारे और कमेंट, वार्ड परिषद के पति समेत 9 पर FIR दर्ज

बता दें कि कलेक्ट्रेट हेरिटेज बिल्डिंग है या नहीं, इसे लेकर पटना हाईकोर्ट में एक साल से मामला चल रहा था. इनटैक्ट नाम की एक संस्था ने पटना कलेक्ट्रेट की बिल्डिंग को हेरिटेज बताते हुए इस तोड़ने पर रोक लगाने का मामेला दर्ज कराया था. इस मामले में हाईकोर्ट के निर्देश पर राज्य सरकार ने कला संस्कति विभाग के प्रधान सचिव रवि परमार के नेतत्व में एक अर्बन हेरिटेज कमीशन का गठन किया. इस कमीशन ने जांच के बाद अपनी रिपोर्ट में संस्था के दावे का खारिज कर दिया. अब इसी कमीशन के रिपोर्ट के आधार पर पटना हाईकोर्ट ने कलेक्ट्रेट के निर्माण की अनुमति दे दी है.

पटना MP रवि शंकर प्रसाद बोले- पांच साल में बिहार में तेजी से बढ़े इंटरनेट यूजर्स

नए कलेक्ट्रेट भवन के निर्माण की लागत 153 करोड़ 53 लाख 14 हजार 509 रुपये हैं. भवन का निर्माण पूरा करने का लक्ष्य 25 महिने रखा गया है. भवन का टेंडर पहले ही हो चुका है और अब दो तीन दिनों में रांची की एजेंसी को काम का ऑर्डर भी दे दिया जाएगा. भवन भूकंपरोधी होगा. नए कलेक्ट्रेट भवन में 39 विभागाें होंगे. इसमें सबसे टॉप फ्लोर पर डीएम का चैंबर होगा. डीडीसी और एसडीओ के कार्यालय का अलग से इंट्री गेट होगा. वहीं जिला परिषद के कार्यालय के लिए भी अलग से इंट्री गेट होगा.

 

 

पटना. पटना कलेक्ट्रेट भवन के निर्माण का रास्ता अब साफ हो गया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसका शिलान्यास किया है. पटना हाईकोर्ट के अनुमति के बाद अब यह भवन बनना शुरू हो जाएगा. बता दें कि कलेक्ट्रेट हेरिटेज बिल्डिंग है या नहीं, इसे लेकर पटना हाईकोर्ट में एक साल से मामला चल रहा था. इनटैक्ट नाम की एक संस्था ने पटना कलेक्ट्रेट की बिल्डिंग को हेरिटेज बताते हुए इस तोड़ने पर रोक लगाने का मामला दर्ज कराया था.

शर्मनाक! टीचर को अश्लील इशारे और कमेंट, वार्ड परिषद के पति समेत 9 पर FIR दर्ज

इस मामले में हाईकोर्ट के निर्देश पर राज्य सरकार ने कला संस्कति विभाग के प्रधान सचिव रवि परमार के नेतत्व में एक अर्बन हेरिटेज कमीशन का गठन किया. इस कमीशन ने जांच के बाद अपनी रिपोर्ट में संस्था के दावे का खारिज कर दिया. अब इसी कमीशन के रिपोर्ट के आधार पर पटना हाईकोर्ट ने कलेक्ट्रेट के निर्माण की अनुमति दे दी है.

हाईकोर्ट से अनुमति मिलने के बाद डीएस रवि कुमार ने भवन निर्माण के कार्यपालक अभियंता को काम जल्द से जल्द शुरू करने का निर्देश दिया है. नए कलेक्ट्रेट भवन के निर्माण की लागत 153 करोड़ 53 लाख 14 हजार 509 रुपये हैं. भवन का निर्माण पूरा करने का लक्ष्य 25 महिने रखा गया है. भवन का टेंडर पहले ही हो चुका है और अब दो तीन दिनों में रांची की एजेंसी को काम का ऑर्डर भी दे दिया जाएगा.

पटना MP रवि शंकर प्रसाद बोले- पांच साल में बिहार में तेजी से बढ़े इंटरनेट यूजर्स

कलेक्ट्रेट का मुख्य भवन 5 मंजिला होगा जिसमें डीएम का ऑफिस होगा. इसके आस पास दो और 4 मंजिला भवन बनाया जाएगा. इस भवन में अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ ही आम लोगों के लिए भी गाड़ियों के पार्किंग के लिए पर्याप्त जगह होगा. भवन भूकंपरोधी होगा. नए कलेक्ट्रेट भवन में 39 विभागाें होंगे. इसमें सबसे टॉप फ्लोर पर डीएम का चैंबर होगा. डीडीसी और एसडीओ के कार्यालय का अलग से इंट्री गेट होगा. वहीं जिला परिषद के कार्यालय के लिए भी अलग से इंट्री गेट होगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें