SP विनय तिवारी को क्वारंटाइन करने से नाराज CM नीतीश कुमार बोले- ठीक नहीं हुआ ये

Smart News Team, Last updated: 03/08/2020 12:42 PM IST
  • सुशांत सिंह राजपूत केस में जांच करने के लिए मुंबई पहुंचे पटना एसपी विनय तिवारी को जबरदस्ती क्वारंटाइन किया गया है. इस पर नाराजगी जाहिर करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि जो हुआ ये सही नहीं हुआ है. 
SP विनय तिवारी को क्वारंटाइन करने से नाराज CM नीतीश कुमार बोले- ठीक नहीं हुआ ये

रविवार को पटना एसपी विनय तिवारी मुंबई पहुंचे. वो सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या केस में जांच में एसआईटी का साथ देने के लिए पहुंचे हैं. हालांकि बीएमसी ने उन्हें मुंबई पहुंचने पर जबरदस्ती क्वारंटाइन कर दिया. इस पर नाराज बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार डीजीपी वहां के अधिकारियों के साथ बात करेंगे. उनके (बिनय तिवारी) के साथ जो कुछ भी हुआ वह सही नहीं है. यह राजनीतिक नहीं है. बिहार पुलिस अपनी ड्यूटी कर रही है.

बता दें कि डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने इसकी जानकारी दी थी कि रविवार रात 11 बजे एसपी विनय तिवारी को मुंबई में बीएमसी ने क्वारंटाइन कर दिया है. उन्होंने एक ट्वीट में लिखा था, आईपीएस अधिकारी बिनय तिवारी आज वहां पुलिस टीम का नेतृत्व करने के लिए आधिकारिक ड्यूटी पर पटना से मुंबई पहुंचे, लेकिन उन्हें आज रात 11 बजे बीएमसी अधिकारियों ने जबरन क्वारंटाइन कर दिया. उन्हें अनुरोध के बावजूद आईपीएस मेस में आवास उपलब्ध नहीं कराया गया और अब वो गोरेगाव के एक गेस्ट हाउस में ठहरे हुए हैं.

सुशांत सिंह केस की जांच करने मुंबई गए SP विनय तिवारी को जबरन किया क्वारंटाइन

बता दें कि इससे पहले मुंबई पुलिस के केस में पटना एसआईटी का सहयोग ना करने के आरोप लगे हैं. वहीं ये भी कहा गया था कि मुंबई पुलिस एसआईटी को मीडिया से बात नहीं करने दे रही है. मुंबई पुलिस मीडिया से बात करने से रोकने के लिए एसआईटी को कैदी वैन में बैठाकर ले गई थी.

सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच करने मुंबई पहुंचे पटना SP सिटी विनय तिवारी

सुशांत सिंह राजपूत के पिता के वकील ने भी आरोप लगाए थे कि मुंबई पुलिस ने उनकी एफआईआर दर्ज नहीं की थी और इस कारण ही उन्होंने पटना में एफआईआर दर्ज करवाई. उन्होंने कहा था कि परिवार की मांग है कि केस की जांच पटना पुलिस ही करे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें