CM नीतीश ने विभागों से मांगी खाली पदों की जानकारी, जल्द निकाल सकते हैं भर्तियां

Smart News Team, Last updated: 20/11/2020 12:20 AM IST
  • चुनाव में किए गए अपने वादे को याद करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रदेश में खली पड़े पदों की जानकारी विभागों से मगांई शुरू कर दी है. साथ ही विभागों से कार्यरत पदों की जानकारी भी मंगाई है.
बिहार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विभिन्न विभागों से मांगी खाली पड़ी पदों की जानकारी

बिहार का विधानसभा चुनाव अभी हाल ही में खत्म हुए हैं चुनाव में एनडीए ने बहुमत हासिल कर अपनी सरकार बनाई. एनडीए ने बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में नीतीश कुमार को चुना. नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री की शपथ लेने के दूसरे ही दिन विभिन्न विभागों में एक पत्र लिखकर रिक्त पड़े पदों की जानकारी मांगी है. 

उस पत्र में सभी विभागों से यह जानकारी मांगी गई है कि विभाग में वर्तमान में नियमित रूप से कार्यरत कुल ताकत, पदों की संख्या और स्वीकृति पदों के खिलाफ अनुबन्ध पर प्रस्तावित रोजगार की जानकारी मांगी है. विभागों को भेजे गए पत्र में यह भी निर्देश दिया गया है कि मांगी गई सभी जानकारी को जल्द से जल्द उपलब्ध कराने के लिए कहा गया है.

रामविलास पासवान के निधन के बाद खाली राज्यसभा सीट पर 14 दिसबंर को उपचुनाव: EC

आपको बता दे कि चुनाव के समय राजद ने चुनाव प्रचार के दौरान रोजगार सृजन का एक बहुत बड़ा मुद्दा उठाया था. राजद के द्वारा 10 लाख नौकरियां देने के वादे से एनडीए सरकार बैक फुट पर आ गई थी. जिसे देखते हुए एनडीए ने बिहार में 19 लाख नौकरियां सृजन करने का ऐलान किया था.

घोटाले के आरोपों से घिरे बिहार के नव नियुक्त शिक्षा मंत्री मेवालाल का इस्तीफा

एनडीए सरकार ने सभी हाई स्कूलों और विश्वविद्यालयों में तीन लाख तक शिक्षकों की भर्ती करने का वादा किया था. साथ ही उन्होंने बिहार को पांच वर्षों में बिहार की सूचना प्रौद्योगिकी का हब बनाने के भी वादा किया था. एनडीए ने बिहार चुनाव में दस हजार डॉक्टरों और 50 हजार पैरामेडिकल स्टाफ की भर्ती सहित स्वास्थ्य सेवा में एक लाख नौकरियां सृजन करने का वादा किया था. साथ ही एनडीए ने अपने पिछले पांच साल में दी हुई नौकरियों को भी गिनाया था. जिसमे उन्होंने बताया था कि पिछले पांच सालों में उन्होंने छह लाख से अधिक नौकरियां दी थी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें