बिहार के सरकारी ITI के पास साल के अंत तक हो अपने भवन, CM नीतीश कुमार का निर्देश

Smart News Team, Last updated: Thu, 5th Aug 2021, 9:00 AM IST
  • बिहार के सभी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (आईटीआई) के पास 2021 के आखिरी तक अपने भवन होंगे. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भवन निमार्ण एवं वित्त विभाग को इस साल के आखिरी तक आईटीआई भवनों का निमार्ण पूरा कराने और इसमें पैसे की कमी न आने देने का निर्देश दिए हैं.
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, फाइल फोटो

पटना. बिहार के सभी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (आईटीआई) के पास 2021 के आखिरी तक अपने भवन होंगे. अभी फिलहाल 66 आईटीआई के पास ही अपने भवन हैं. नीतीश सरकार ने सभी आईटीआई को सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के रूप में विकसित करने का फैसला किया है. 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भवन निमार्ण एवं वित्त विभाग को इस साल के आखिरी तक आईटीआई भवनों का निमार्ण पूरा कराने और इसमें पैसे की कमी न आने देने का निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना-2 के जरिए आत्मनिर्भर बिहार बनाने के संकल्प के तहत राज्य सरकार ने 20 लाख से अधिक रोजगार के अवसर सृजित करने का एलान किया है. इसमें सबसे ज्यादा ध्यान युवाओं के कौशल विकास पर देना है. 

आईटीआई को अपग्रेड किया जा रहा है. रोजगार देने के नए ट्रेड शुरू करने के साथ पुराने खत्म किए जा रहे हैं जिनमें सालों से रोजगार नहीं मिल पा रहा. बिहार सरकार ने आईटीआई के भवनों को बनाने का काम पूरा करने के लिए वित्तिय वर्ष 2021-22 के बजट में 155 करोड़ का प्रावधान किया है.

आपको बता दें कि बिहार में इस समय 149 सरकारी आईटीआई है. इनमें से 66 के पास अपने भवन हैं. बचे हुए 83 आईटीआई में भवन बनाने की समयसीमा 31 दिसंबर तक तय की गई है. श्रम संसाधन विभाग टाटा टेक्नॉलाजी के सहयोग से 149 आईटीआई को सेंटर ऑफ एक्सीलेंस भी बनाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें