CM नीतीश का अधिकारियों को निर्देश, सरकारी भवन का निर्माण फ्लाई ऐश ईंट से हो

Smart News Team, Last updated: Tue, 22nd Jun 2021, 2:09 PM IST
पर्यावरण और धरती के नुकसान को कम करने के लिए बिहार के सीएम ने अधिकारियों को निर्देश दिया है, कि राज्य में अब जो भी नए भवन का निर्माण हो या फिर मेंटेनेंस का कार्य हो उसमें फ्लाई ऐश ईट का ही प्रयोग किया जाए.
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार. (फाइल फोटो)

पटना : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पर्यावरण बचाने के उद्देश्य से अब से राज्य में बनने वाले सभी सरकारी भवन का निर्माण में फ्लाई ऐश ईट का इस्तेमाल करने को कहा है. इसके लिए नीतीश कुमार ने सभी अधिकारियों को निर्देश भी दिया है. फ्लाई ऐश ईट पर्यावरण के लिए मिट्टी के ईटों से बेहतर होते हैं. इसी वजह से बिहार के सीएम ने राज में बनने वाले किसी भी बिल्डिंग या फिर मेंटेनेंस में फ्लाई ऐश ईट का इस्तेमाल करने को कहा है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ये निर्देश एक शिलान्यास कार्यक्रम के समय दिया. आपको बता दे, कि सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए दिल्ली में बनी बिहार सदन के 12 विभागों के 73 भवनों का शिलान्यास सीएम ने किया है. इन सभी भवन के निर्माण में फ्लाई ऐश ईट का प्रयोग किया गया है. साथ ही एक हजार 411 करोड़ के 21 विभाग के 169 भवन और बिहार सदन का उद्घाटन भी किया.

बिहार के सरकारी स्कूलों में तीन महीने का अनाज फ्री, जानें किसको मिलेगा फायदा

एक और नया भवन बनने से दिल्ली शहर में बिहार के तीन भवन हो गए हैं. इन तीनों भवन के नाम बिहार भवन बिहार निवास और बिहार सदन है. बिहार राज्य से अब कोई मंत्री अधिकारी और वीआईपी गेस्ट दिल्ली किसी सरकारी काम से जाएगा, तो उसे वहां ठहरने में अब कोई दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें