नीति आयोग की नीति पर नीतीश कुमार ने उठाये सवाल, कहा- महाराष्ट्र और बिहार की तुलना कैसे संभव

Nawab Ali, Last updated: Tue, 5th Oct 2021, 8:59 AM IST
  • बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नीति आयोग की नीति पर ही सवाल उठाया है. सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि देश के पिछड़े राज्यों के लिए नीति आयोग को अलग से कसौटी तय करनी चाहिए. सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि महाराष्ट्र और बिहार की तुलना कैसे संभव है.
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार-फोटो साभार फेसबुक नीतीश कुमार

पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नीति आयोग की नीति पर ही सवाल उठाया है. सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि देश के पिछड़े राज्यों के लिए नीति आयोग को अलग से कसौटी तय करनी चाहिए. सीएम नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री दरबार के बाद मीडिया से बात करते हुए कहा है कि नीति आयोग को विकसित राज्यों और पिछड़े राज्यों के लिए अलग मानक बनाने चाहिए, जिसके आधार पर राज्यों की रैंकिंग की जाए. सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि महाराष्ट्र और बिहार की तुलना कैसे संभव है.

बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने नीति आयोग को ही आड़े हाथों लिया है. सीएम नीतीश कुमार ने नीति आयोग की नीति पर सवाल करते हुए कहा है कि देश में पिछड़े राज्यों और विकसित राज्यों के अलग से मानक तैयार करने चाहिए जिसके बाद ही रैंकिंग भी तैयार हो. सभी राज्यों की स्थिति एक नहीं हो सकती है विकास कार्यों के मूल्यांकन के लिए बुनियादी चीज जाननी होगी. सीएम नीतीश ने कहा है कि नीति आयोग की अगली बैठक में वो सवाल करेंगे कि आखिर महाराष्ट्र की तुलना बिहार से कैसे संभव. सबसे धनी राज्य की सबसे गरीब की तुलना करेंगे? सभी राज्यों के मानक अलग होंगे तो राज्यों का उत्थान होगा.

बिहार में कांग्रेस RJD महागठबंधन टूटा, उपचुनाव में दोनों सीट पर तेजस्वी से लड़ेगी राहुल की पार्टी

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा हा कि जातीय जनगणना को लेकर सर्वदलीय बैठक उपचुनाव के बाद की जाएगी. सीएम नीतीश कुमार ने काह है कि जातीय जनगणना को लेकर केंद्र की सरकार विचार कर निर्णय ले. उपचुनाव के बाद दस पार्टियों के साथ इस विषय में बैठक करेंगे.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें