CM नीतीश ने ASI से मांगी खुदाई की अनुमति, 2 हजार साल पुराने इतिहास को लाएंगे बाहर

Ankul Kaushik, Last updated: Sat, 4th Sep 2021, 11:38 AM IST
  • बिहार सरकार ने पटना सिटी की दो जगहों पर खुदाई के लिए भारतीय पुरातत्व परिषद (एएसआई) से अनुमति मांगी है. नीतीश सरकार इस खुदाई के जरिए पटना के 2 हजार साल पुराने इतिहास को जमीन से बाहर लाएगी.
सीएम नीतीश कुमार जमीन से पटना के इतिहास को बाहर लाएंगे

पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुलजारबाग प्रेस भवन परिसर व बीएनआर टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज का निरीक्षण किया. सीएम नीतीश ने इस निरीक्षण के बाद कहा कि वह पटना के इतिहास को जमीन से बाहर लाएंगे. इसके लिए उन्होंने पटना सिटी में जगह चिन्हित की है और इसके लिए भारतीय पुरातत्व परिषद (एएसआई) से खुदाई की अनुमति मांगी गई है. पुरातात्विक खुदाई को लेकर विशेषज्ञों एवं अधिकारियों के साथ भी कई कई बिंदुओं पर चर्चा करते हुए उन्हें आवश्यक निर्देश दिए गए हैं. इसके साथ ही सीएम नीतीश ने कहा कि पाटिलपुत्र यही है जो पटना साहिब कहलाता है. पटना में दो जगह चिह्नित की गई हैं और इसका सीएम नीतीश ने भी निरीक्षण किया है. इसके साथ ही सीएम नीतीश ने कहा कि अगर कहीं सरकारी जमीन है तो उसकी खुदाई करने पर कई चीचें मिल सकती हैं.

इस खुदाई को लेकर सीएम नीतीश ने कहा कि अगर यहां खुदाई में कुछ मिलता है यहां काफी टूरिस्ट आयेंगे. इसके साथ ही पटना का 2 हजार साल पुराना इतिहास सार्वजनिक होगा और नई पीढ़ी भी इसके बारे में जानेगी. हम लोगों की पहले से ही इच्छा है कि पटना का इतिहास अधिक से अधिक सार्वजानिक हो. सीएम नीतीश ने कहा कि हमने इस खुदाई को लेकर पहले ही पुरातात्विक विभाग को बता दिया है.

CM नीतीश ने किया पटना सिटी का दौरा, गुरु का बाग में जाकर लिया जायजा

बीएनआर में बची जगह में खुदाई होगी इसके लिए हमने परिसर का निरीक्षण किया है. सीएम नीतीश के साथ निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री के परामर्शी अंजनी कुमार सिंह सहित जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह, वरीय पुलिस अधीक्षक उपेंद्र शर्मा, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, कला, संस्कृति एवं युवा विभाग की सचिव बंदना प्रेयसी, पटना के प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल, मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार, सहित कई अधिकारी मौजूद थे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें