बिहार में जल्द खुलेंगे कॉलेज-यूनिवर्सिटी, जानें कब लेगी नीतीश सरकार फैसला

Smart News Team, Last updated: Sun, 4th Jul 2021, 11:05 AM IST
अनलॉक-4 की शुरुआत में विश्वविद्यालयों, कॉलेजों व शोध संस्थानों को खोलने की अनुमति मिल सकती है. मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण ने सभी डीएम से अनलॉक-4 को लेकर फीडबैक भी लिये हैं. बैठक में अधिकतर डीएम ने कोरोना संक्रमण के अभी बढ़ने के खतरे पर जोर देते हुए पूरी तरह से अनलॉक किये जाने से इंकार कर दिया.
अनलॉक 4 में बिहार के उच्च शैक्षिक संस्थान खोले जा सकते हैं. (प्रतीकात्मक फोटो)

पटना : बिहार में सात जुलाई से शुरु होने जा रहे अनलॉक-4 में राज्य के उच्च शिक्षण संस्थानों को खोलने में छूट मिल सकती है. अनलॉक-4 की शुरुआत में विश्वविद्यालयों, कॉलेजों और शोध संस्थानों को खोलने की अनुमति मिल सकती है. शनिवार को मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण ने सभी जिलाधिकारियों से अनलॉक-4 को लेकर फीडबैक भी लिये हैं. बैठक में अनलॉक में क्या किया जाना चाहिए और अभी संक्रमण की क्या स्थिति है जैसे मुद्दों पर विस्तार से चर्चा हुई.

यह बैठक वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुई. बैठक में अधिकतर जिलाधिकारियों ने कोरोना संक्रमण के अभी बढ़ने के खतरे पर जोर देते हुए पूरी तरह से अनलॉक किये जाने से इंकार कर दिया. उन्होंने अनलॉक-3 में लागू प्रतिबंधों में थोड़ी और सहूलियत के साथ अनलॉक-4 लागू किया जाने की बात कही. मुख्य सचिव जल्द ही सभी जिलों और विभागों के विचारों और सुझावों से मुख्यमंत्री नीतिश कुमार को अवगत कराएंगे. इसके बाद मुख्यमंत्री के स्तर से मंत्रीगण और पदाधिकारियों की बैठक के बाद अनलॉक-4 पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा.

CM नीतीश दोबारा शुरू करेंगे जनता दरबार, इस दिन करेंगे शिकायतों का समाधान

वहीं अनलॉक-4 में सभी दुकानों को खोलने के मामले में भी और रियायत दी जा सकती है. सभी दुकानों के सातों दिन खुलने और इन दुकानों के खुलने के समय को बढ़ाने के मामले में भी विचार किया जा रहा है. फिलहाल दुकानों को शाम 7 बजे तक खोलने की इजाजत है. वहीं खाने-पीने, कृषि से संबंधित दुकाने और आवश्यक वस्तुओं की दुकानों को छोड़कर अन्य दुकानों को एक दिन छोड़ कर खोला जा रहा है.

पटना यूनिवर्सिटी में डॉ. चौधरी शर्फुद्दीन बने स्पोर्ट्स बोर्ड के अध्यक्ष

गौरतलब है कि राज्य में पांच मई से सबसे पहले लॉकडाउन लगाया गया. इसके बाद से कोरोना संक्रमण की दर में कमी आई थी. इसके बाद अनलॉक 1 की शुरुआत 16 जून से की गई थी. हालांकि अभी भी पिछले एक सप्ताह से राज्य में रोजाना 150 से ज्यादा कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं. इस तरह से महीने में पांच-छह हजार संक्रमण के मामले हो जाएंगे. ऐसे में अभी पूरी तरह से एहतियात बरतने की जरुरत है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें