पटना: 22 तारीख को होंगे विधान परिषद चुनाव, जाने कहां-कहां बनेगें मतदान केंद्र

Smart News Team, Last updated: 10/10/2020 04:11 PM IST
  • विधान परिषद पटना स्नातक एंव शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए 22 अक्टूबर को होगी वोटिंग. वोटरों को मतदान केन्द्र की जानकारी देने के लिए जिला निबंधन एंव परामर्श केन्द्र पर नियंत्रण कक्ष बनाया गया है. भारत निर्वाचन आयोग के टोल फ्री नंबर 1950 पर ले सकते हैं अधिक जानकारी.
22 अक्टूबर बिहार को होंगे पटना विधान परिषद चुनाव.(फाइल फोटो)

पटना. पटना स्नातक विधान परिषद एंव शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए 22 अक्टूबर को वोटिंग होगी. जिसके मद्देनजर वोटरों को मतदान केन्द्र की जानकारी देने के लिए जिला निबंधन एंव परामर्श केन्द्र पर नियंत्रण कक्ष बनाया गया है. इसके तहत 6 टेलीफोन लगातार 24 घंटे काम कर रहे हैं. इस काम के लिए तैनात टेलीफोन ऑपरेटर आपसे आपका नाम पता और विधानसभा क्षेत्र की जानकारी लेते हैं. वोटरों के पहचान पत्र का एपिक नंबर पूछने के बाद टेलीफोन ऑपरेटर उसे तुरंत जानकारी देते हैं.

यदि आपने मतदाता सूची में नाम जोड़ने के लिए ऑनलाइन आवेदन किया है तो ऑपरेटर आपके मोबाइल नंबर की जानकारी लेकर आपके मतदान केन्द्र की जानकारी देंगे. आपको बताते चलें कि यह सुविधा बिहार विधान परिषद के मतदाताओं के लिए भी की गई है. इसके अलावा बिहार सीईओ की वेबसाइट पर जाकर बाई तरफ के कॉलम में टीसी डीसी यानि स्नातक और शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए बने कॉलम को लॉगिन करें उसके बाद अपना नाम एंव अपने संबंदी का नाम दर्ज करें, इससे पूरी जानकारी मिल जाएगी.

विधानसभा चुनाव: यूपी की लड़ाई ने एक ना होने दिए बिहार में दो गठबंधन

कैंडिटेड भी दे रहे जानकारी

आपको बताते चलें कि पटना स्नातक एंव शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए चुनाव लड़ रहे कैंडिडेट वोटरों को फोन के जरिए उनके मतदान केन्द्र की जानकारी दे रहे हैं. जबकि कुछ कैंडिडेट तो वोटरों के मोबाइल नंबर पर मैसेज के जरिए उनके मतदान केन्द्र के बारे में जानकारी दे रहे हैं.

राजधानी में हैं 113 मतदान केन्द्र

पटना शिक्षक एवं स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के लिए जिले में 113 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं. इसमें पटना शहरी क्षेत्र में कुल 88 मतदान केन्द्र हैं. स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के लिए 62 तथा शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए 26 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं. मतदान सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक होगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें