बिहार: खगड़िया में बम ब्लास्ट, 12 लोग घायल, कचरे में था बम, जांच में जुटी ATS

Somya Sri, Last updated: Fri, 25th Feb 2022, 7:26 AM IST
  • बिहार में खगड़िया थाना क्षेत्र के बखरी बस स्टैंड के पास बम ब्लास्ट होने से 12 लोग घायल हो गए. धमाके के जांच के लिए पटना से एटीएस यानी आंतकवाद निरोधक दस्ता को बुलाया गया है. स्थानीय लोगों के मुताबिक कहीं से बोरे में कचरा चुनकर लाया गया था. कचरे से भरे बोरे को जैसे ही फेंका गया बम विस्फोट हो गया.
खगड़िया के बखरी बस स्टैंड के पास बम ब्लास्ट (प्रतीकात्मक फोटो)

पटना: गुरुवार को बिहार के खगड़िया में बम ब्लास्ट होने से 12 लोग घायल हो गए. घटना खगड़िया थाना क्षेत्र के बखरी बस स्टैंड के पास की बताई जा रही है. अनुमान है कि बम कचरे में था और धमाका एक से कई बार ज्यादा हुआ. हालांकि कितने बम विस्फोट हुए इसकी जानकारी अबतक सामने नहीं आ सकी है. वहीं धमाके के जांच के लिए पटना से एटीएस यानी आंतकवाद निरोधक दस्ता को बुलाया गया है. टीम में विस्फोटक विशेषज्ञ भी शामिल है. वहीं जांच के लिए घटनास्थल को खाली करा दिया गया है. फिलहाल धमाके में गम्भीर रूप से घायल 2 लोगों को भागलपुर रेफर कर दिया गया है.

कैसे हुआ धमाका?

जानकारी के मुताबिक खगड़िया के बखरी बस स्टैंड के पास कचरे से भरे बोरे में बम था. कचरे के बोरे को जैसे ही जमीन पर फेंका गया. जोरदार धमाके के साथ कई बम विस्फोट हो गए. पीड़ित लोगों ने बताया कि स्थानीय निवासी सतीश कहीं से बोरा में कचरा चुनकर आया था. कचरे से भरे बोरे को जैसे ही घर के पास फेंका, वैसे ही ताबड़तोड़ धमाके शुरू हो गए. इसमें आसपास रहे दर्जनभर लोग गंभीर रूप से झुलस गए. अफरातफरी में यह भी पता नहीं चल पाया कि कितने धमाके हुए. अनुमान है कि कचरे में ही बम था.

खुशखबरी: बिहार के पांच शहरों में शुरू होगी हेलीकाप्‍टर सेवा, पटना, गया, राजगीर व बोधगया शामिल

जांच में जुटी एटीएस

बता दें कि पटना से आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) की टीम इस पूरे घटना की जांच कर रही है. टीम का नेतृत्व इंस्पेक्टर रैंक के अफसर कर रहे हैं. वहीं एसटीएस विभिन्न पहलुओं पर बम धमाके की जांच करेगी. बम कितना शक्तिशाली था, धमाके के लिए किस तरह के विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया, इसके पीछे कौन लोग हो सकते हैं और बम बनाने का मकसद क्या था? इन सभी बिंदुओं पर जिला पुलिस के साथ टीम जांच-पड़ताल करेगी. टीम में बम निरोधक दस्ता से जुड़े एक्सपर्ट भी शामिल हैं. उनके साथ कई अधिकारी और जवान भी हैं. वहीं धमाके वाली जगह पर एफएसएल की टीम को भी बुलाया गया है. इधर, घटना की सूचना पर डीएम आलोक रंजन घोष, एसपी अमितेश कुमार, सदर एसडीओ धर्मेंद्र कुमार ने मौके पर पहुंचकर आनन-फानन में घायलों को सदर अस्पताल भर्ती कराया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें