जमीन हड़पने वाले विवाद में बिहार उपमुख्यमंत्री रेणु देवी ने दी सफाई, कही ये बात

Smart Branded Content Desk, Last updated: Sun, 4th Jul 2021, 11:57 AM IST
  • उपमुख्यमंत्री रेणु देवी को जमीन विवाद मामले में खुद को जोड़े जाने पर शनिवार को सफाई देनी पड़ गई. उन्होंने अपने सरकारी आवास में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मीडिया में बेवजह मेरा नाम घसीटा गया.
बिहार उपमुख्यमंत्री रेणु देवी (फाइल फ़ोटो)

पटना: 21 जून को पटना के पटेल नगर में ब्रह्मानंद सिंह के भूखंड पर रवि प्रसाद उर्फ पिन्नू द्वारा जबरन कब्जा करने का मामला इतना तूल पकड़ा की उपमुख्यमंत्री रेणु देवी को जमीन विवाद मामले में खुद को जोड़े जाने पर शनिवार को सफाई देनी पड़ गई. उन्होंने अपने सरकारी आवास में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मीडिया में बेवजह मेरा नाम घसीटा गया. मेरा पक्ष जानने की कोशिश नहीं की गई. सवाल किया, क्या मैं पिछड़ी जाति की हूं, इसलिए ऐसा किया गया.

उन्होंने कहा कि मेरे जिस भाई पर गंभीर आरोप लगाए जा रहे हैं, उससे मेरे संबंध अच्छे नहीं हैं. पांच साल से हमारी बातचीत बंद है. मुझे बहुत दुख हुआ कि बेवजह मेरा नाम घसीटा गया है. मीडिया पर बरसते हुए कहा कि रेणु देवी कोई मोम की फिलिंग नहीं, चट्टान है. 42 वर्षों से सामाजिक जीवन में हूं, आज तक कोई गलत काम नहीं किया है. जब मेरा भाई खुद कह रहा है कि रेणु देवी से मेरा संबंध नहीं है तो फिर मेरे नाम का दुरुपयोग क्यों हो रहा है. पीड़ित को मैंने मिलने बुलाया था, लेकिन वह मिलने नहीं आया. अगर अपराध हुआ है तो पुलिस अपना काम करेगी.

चेन स्नेचरों का आतंक, लूट की वारदातों से तंग पटना पुलिस तड़ातड़ कर रही छापेमारी

ये है पूरा मामला

ब्रह्मानंद सिंह ने शुक्रवार को आरोप लगाया, ‘‘रवि प्रसाद उर्फ पिन्नू उपमुख्यमंत्री रेणु देवी के भाई ने अपने साथियों के साथ 21 जून को पटेल नगर में मेरा भूखंड हड़प लिया. उन्होंने भूखंड पर दीवार भी बनानी शुरू कर दी है. जब हमने उनके जबरन कृत्य पर आपत्ति जतायी, तो प्रसाद ने मुझे गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी और अपने सहयोगियों से मुझे और श्रवण को उपमुख्यमंत्री रेणु देवी के पटना स्थित आधिकारिक आवास पर ले जाने के लिए कहा।’’

उन्होंने कहा कि वे रेणु देवी से उनके भाई की हरकतों के बारे में बताने के लिए मिले थे, लेकिन उन्होंने उनसे कहा कि उनका उससे कोई संबंध नहीं है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें