Video: कार्यक्रम में सीढ़ी टूटने से मंच पर धड़ाम से गिरे बिहार के डिप्टी CM तारकिशोर प्रसाद

Shubham Bajpai, Last updated: Wed, 3rd Nov 2021, 4:59 PM IST
  • कटिहार में एख कार्यक्रम में शामिल होने पहुंच बिहार के डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद मंच पर धड़ाम से गिर गए. जिसके बाद आनन-फानन में सुरक्षाकर्मी समेत सभी ने उनको उठाया. गनीमत ये रही कि तारकिशोर को किसी तरह की कोई चोट नहीं आई. थोड़ी देर आराम करने के बाद तारकिशोर कार्यक्रम में शामिल हुए. 
कटिहार में मंच पर गिरे डिप्टी सीएम तारकिशोर, सीढ़ी टूटने की वजह से हुआ हादसा

पटना. बिहार के कटिहार में बैंक ऑफ बड़ौदा के ऋण वितरण कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद पहुंचे. इस दौरान बीच कार्यक्रम में सीढ़े से उतरने के दौरान डिप्टी सीएम तारकिशोर अपने सुरक्षाकर्मी समेत 6 लोगों के साथ गिर पड़े. सीढ़ी टूटने से हुए इस हादसे में गनीमत ये रही कि तारकिशोर को कोई चोट नहीं आई. हादसे के बाद आनन-फानन में सभी अधिकारी तारकिशोर से उनका हाल पूछने लगे. हालांकि थोड़ी देर बाद तारकिशोर ने कार्यक्रम को संबोधित किया और 100 जीविका दीदियों को ऋण का चेक वितरित किया.

कार्यक्रम में किसी को चोट नहीं लगी, लेकिन कार्यक्रम में इस तरह की लापरवाही से कोई बड़ा हादसा हो सकता था. अभी हादसे के पीछे के कारण का पता नहीं चला है कि हादसा कमजोर सीढ़ी की वजह से हुआ या सीढ़ी में क्षमता से अधिक लोग सवार हो गए.

Bihar NEET: मेडिकल कॉलेजों में 715 अंकों से शुरू होगी ओपनिंग रैंक, 1703 सीटों पर होगा दाखिला

राज्य और देश के विकास में बैंक की भूमिका महत्वपूर्ण

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डिप्टी सीएम तारकिशोर ने कहा कि किसी भी राज्य या देश के विकास में बैंक की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण है. वहीं, जीविका दीदियों के ऋण वितरण को लेकर तारकिशोर ने कहा कि जीविका दीदी ने पूरे राज्य में बेहतर काम किया है. बैंक की ओर से मिले ऋण को समय में चुकाकर ये सब आगे बढ़ रही है.

अनंत सिंह का जलवा बरकरार, पैतृक गांव नदांवा पंचायत में निर्विरोध जीत गए सभी उम्मीदवार

100 जीविका दीदियों को बांटी ऋण राशि के चेक

कार्यक्रम में सीएम तारकिशोर प्रसाद ने 100 जीविका दीदियों को 5 करोड़ की ऋण राशि की पहली किश्त के तौर में 1 करोड़ रुपए के चेक वितरित किये. इस दौरान तारकिशोर ने कहा कि ऐसे समूह को प्रोत्साहित करने को लेकर सरकार लगातार काम कर रही है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें