प्रीपेड मीटर में पैसा होने के बावजूद बिजली गुल, इन वजहों से आ रही समस्या

Smart News Team, Last updated: Thu, 24th Jun 2021, 9:44 AM IST
  • बिहार में लग रहे स्मार्ट प्रीपेड बिजली मीटर में नेटवर्किंग की समस्या के चलते पैसा होने के बावजूद बिजली कट जा रही है. इन मीटरों में बिजली का उपभोग करने से पहले ही रिचार्ज करना होता है. लेकिन रिचार्ज के बाद भी कई तरह की समस्याएं आने से परेशान होकर लोग इन स्मार्ट मीटरों को लगाना नहीं चाह रहे है.
प्रीपेड मीटर में पैसा होने के बावजूद कट रही बिजली (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पटना. बिहार में लगे प्रीपेड मीटर में पैसा होने के बावजूद बिजली कटने से लोगों को परेशानी हो रही है. राज्य में लग रहे इन स्मार्ट प्रीपेड बिजली मीटरों को चलाने में नेटवर्किंग की समस्या सामने आ रही है. इन मीटरों का नेटवर्क दूरदराज इलाकों या अपार्टमेंट के बेसमेंट में लगने से काम नहीं कर रहा है. जिस कारण लोगों को मीटर में पैसे होने के बाद भी बिजली कटौती की समस्या झेलनी पड़ रही है. इन मीटरों में बिजली का उपभोग करने से पहले ही रिचार्ज कराना होता है. लेकिन रिचार्ज के बाद भी कई तरह की समस्याएं होने से तंग आकर लोग इसे लगाना नहीं चाह रहे है.

बिहार में अब तक डेढ़ लाख स्मार्ट बिजली मीटर लग चुके है. आने वाले डेढ़ सालों में यहाँ 23 लाख और स्मार्ट मीटर लगाए जाने है. यह देश का इकलौता ऐसा राज्य है. जहां प्रीपेड मीटर लगाएं जा रहे है. इन मीटरों में एक भी सिम लगा होता है. ये स्मार्ट मीटर प्रीपेड मोबाइल की तर्ज पर ही खपत होने वाली बिजली का हिसाब-किताब रखते है. लेकिन इसके लिए मोबाइल नेटवर्क का होना अनिवार्य है. कई दिनों से बिजली कंपनी के स्थानीय कार्यालयों में लोगों की शिकायत आ रही थी कि प्रीपेड मीटर में पैसा होने के बाद भी बिजली कट रही है. इसकी जांच में पता चला कि मीटर के नेटवर्क के ठीक से काम न करने के कारण यह समस्या हो रही है.

5 जुलाई से बिहार में 94 हजार प्रारंभिक शिक्षकों की बहाली, फुल डिटेल्स

बिहार बिजली स्मार्ट मीटर एप की मदद से उपभोक्ता इन मीटरों के संबंध में जानकारियां देख सकते है. नियमानुसार इन मीटरों में खपत के अनुसार रोजाना पैसे की कटौती होनी है. उपभोक्ताओं को खपत के आधार पर मीटर रिचार्ज कराने के लिए सात दिन पहले नोटिस दी जाएगी. रिचार्ज कराने की दूसरी नोटिस प्रीपेड मीटर की राशि शून्य होने पर दी जाएगी. अगर शून्य राशि होने के 24 घंटे के अंदर रिचार्ज नहीं किया गया, तो बिजली की सुविधा खत्म हो जाएगी. लेकिन लोगों की शिकायत आ रही है कि मीटर में पैसा खत्म होने के मैसेज नियमित तौर पर नहीं मिल रहे है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें