बिहार: क्राइम को लेकर एक्शन में DGP एस के सिंघल, ADG-IG करेंगे अपराध की समीक्षा

Smart News Team, Last updated: Thu, 24th Dec 2020, 10:35 PM IST
बिहार में बढ़ते अपराध पर लगाम लगाने के लिए डीजीपी एस के सिंघल ने एडीजी और आईजी रैंक के अधिकारियों के राज्य के जिलों में अपराध की समीक्षा करने का निर्देश दिया है. बीते दिन राज्य पुलिस मुख्यालय पर आला पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बढ़ते अपराध पर चिंता जाहिर की थी. 
बिहार डीजीपी एस एक सिंघल ने एडीजी और आईजी रैंक के अधिकारिकों को राज्य के जिलों की अपराध समीक्षा करने का आदेश दिया है

बिहार में बढ़ते अपराध पर लगाम लगाने के लिए नवनियुक्त डीजीपी एस के सिंघल ने कई फैसले किए हैं. राज्य में अपराध पर नियंत्रण के लिए डीजीपी एस के सिंघल ने एडीजी और आईजी रैंक के अधिकारियों को जिलों में अपराध की समीक्षा करने का आदेश दिया है. एडीजी अमित कुमार को नालंदा जिला भेजा गया है. जल्द ही राज्य के दूसरे जिले में भी अपराध पर लगाम लगाने के लिए अन्य अधिकारियों को भेजा जाएगा.

बता दें कि बीत दिन बिहार में बढ़ते अपराध से चिंतित मुख्यमंत्री नीतीश कुमार राज्य के आला पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक करने खुद पुलिस मुख्यालय पहुंचे थे. बैठक के दौरान डीजीपी और गृह सचिव के साथ सभी आला पुलिस अधिकारी मौजूद थे. मालूम हो कि इससे पहले भी सीएम नीतीश कुमार राज्य में बढ़ते अपराध को लेकर 3 बार पुलिस अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर चुके हैं. बैठकों के बावजूद बीते कुछ समय में बिहार आपराधिक घटनाओं में काफी तेजी आई है.

PM मोदी से मिले बिहार के दोनों डिप्टी CM, नीतीश मंत्रिमंडल का जल्द विस्तार

इससे पहले की समीक्ष बैठकों के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के पुलिस अधिकारियों को अपराध नियंत्रण को लेकर काफी दिशा निर्देश दिए थे. पुलिस के तमाम प्रयासों के बावजूद अपराधी बेलगाम है और हत्या, लूट और अपहरण का वारदातें जारी हैं. बता दें कि डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे के वीआरएस लेने के बाद एस के सिंघल को डीजीपी का प्रभार सौंपा गया था. हालांकि कुछ दिन पहले ही एस के सिंघल को फुल टाइम डीजीपी का पदभार सौंपा गया है.

पटना: जूनियर डॉक्टरों से नहीं मिले PMCH प्रधान सचिव, कल भी जारी रहेगी हड़ताल

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें