बिहार बनेगा आईटी हब, विदेश से आएंगे निवेशक, बढ़ेंगे रोजगार के अवसर

Naveen Kumar, Last updated: Wed, 23rd Feb 2022, 10:08 AM IST
  • बिहार में अब आईटी क्षेत्र में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे. राज्य सरकार की ओर से निवेशकों को आमंत्रित करने के लिए एक विशेष यूनिट का गठन किया है. दुबई के आईटी निवेशकों ने बिहार में निवेश करने की इच्छा जाहिर की.
फाइल फोटो

पटना. बिहार में अब आईटी क्षेत्र में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे. बिहार के श्रम मंत्री जीवेश कुमार हाल ही में दुबई दौरे पर गए थे. उन्होंने बताया कि राज्य सरकार की ओर से निवेशकों को आमंत्रित करने के लिए एक विशेष यूनिट का गठन किया है. यूनिट में दक्ष लोगों को शामिल किया जाएगा, जो निवेशकों को आकर्षित करेंगे. 

श्रम मंत्री ने दुबई के उद्यमियों को विकासात्मक कार्यों के बारे में जानकारी दी थी. जिसके बाद कुछ आईटी निवेशकों ने बिहार में निवेश करने की इच्छा जाहिर की. इस दौरान निवेशकों द्वारा कई प्रस्ताव भी मिले हैं, जिन पर राज्य सरकार ने अमल करना शुरू कर दिया है. खास कर आईटी निवेशकों के प्रस्ताव के लिए अधिकारियों को विशेष निर्देश दिए हैं. ऐसे में बिहार में युवाओं को आईटी क्षेत्र में भी रोजगार मिल सकेगा. आपको बता दें कि आईटी निवेशकों को बिहार में निवेश के लिए आकर्षित करने के लिए प्रोजेक्ट मैनेजमेंट यूनिट (पीएमयू) का गठन किया जाएगा.

UPSC नहीं भारतीय रेलवे के कैडर से होगी ग्रुप ए के पदों पर बहाली, Railway तैयार कर रहा Cadre

 इस यूनिट में प्रोफेशनल्स को शामिल किया जाएगा, जो बिहार में आईटी क्षेत्र की संभावनाओं को तलाश करेंगे और निवेशकों को उनके बारे में विस्तार से जानकारी देंगे. पीएमयू राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय मंचों पर बिहार की ब्रांडिंग करेंगे. निवेश के लिए क्या प्रक्रिया रहेगी, सरकार की ओर से उनको क्या सुविधाएं मिलेंगी, इन सब की जानकारी भी पीएमयू निवेशकों को देंगे. बिहार में व्याप्त संभावनाओं के बारे में निवेशकों को बताया जाएगा, ताकि वे राज्य में निवेश के लिए तैयार हो. बता दें कि राज्य सरकार का प्रयास है कि देश के अन्य राज्यों की तर्ज पर बिहार भी आईटी हब के रूप में विकसित हो. इसके लिए अब प्रयास किए जा रहे हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें