बिहार बाढ़: गंगा, बूढ़ी गंडक समेत इन नदी का जलस्तर बढ़ा, गांवों में घुसा पानी

Smart News Team, Last updated: Sun, 11th Jul 2021, 7:58 AM IST
  • बिहार में बाढ़ विकराल रूप धारण करती नजर आ रही है. राज्य के कई जिलों से होकर गुजरने वाली गंगा, बूढ़ी गंडक, बागमती समेत अन्य नदियों का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है.
बिहार की प्रमुख नदियों का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है

हर वर्ष की तरह मानसून के दौरान बिहार में बाढ़ ने तबाही मचाना शुरू कर दिया है. उत्तर बिहार के जिलों से होकर गुजरने वाली नदियां जैसे गंगा, बूढ़ी गंडक, बागमती समेत अन्य नदियों का जलस्तर एकबार फिर बढ़ने लगा है. ऐसे में नदियों के किनारे स्थिति इलाकों की स्थिति गंभीर हो गई है. समस्तीपुर में बूढ़ी गंडक में पानी बढ़ने के चलते समस्तीपुर-दरभंगा डाउन लाइन पर ट्रेनों का परिचालन रोक दिया गया है.

बिहार में इसके अलावा पश्चिमी व पूर्वी चम्पारण, शिवहर, सीतामढ़ी जिलों के कई इलाकों में सड़कों पर पानी चढ़ने से लोगों का आवागमन ठप हो गया है. दरभंगा के हनुमाननगर में बाढ़ की स्थिति विकराल हो रही है. बूढ़ी गंडक में जलस्तर बढ़ने से मुजफ्फरपुर जिले के तटीय इलाकों मे बाढ़ की स्थिति गहरा गई है. कई जगहों पर सड़के धंस गई हैं. वहीं ब्लैकआउट का भी खतरा मंडराने लगा है. सिकरहना नदी में उफान से शनिवार को बेतिया-नरकरियागंज की सड़कों पर बाढ़ पानी भर गया है. वाल्मीकिनगर बराज से गंडक नदी में 1.72 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है.

योगी सरकार पर राबड़ी देवी का हमला- UP में पुलिस के वेश में गुंडे कानून के रखवाले

गंडक नदी में पानी बढ़ने से मोतिहारी जिले के नवाजा पंचायत के आधा दर्जन गांवों में स्थिति खराब हो गई है. गंडक नदी डुमरिया घाट में लाल निशाना से 1.35 मीटर ऊपर और चटिया में 97 सीएम नीचे है. लाल बेगिया सिकरहना में बूढ़ी गंडक खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. समस्तीपुर जिले में बूढ़ी गंडक का जलस्तर बढ़कर खतरे के निशान से 1.85 मीटर से ऊपर पहुंच गया है. कोसी में भी फिलहाल बाढ़ की स्थिति नहीं है.

कॉमन सिविल कोड से खत्म होगा महिलाओं से भेदभाव, धर्म से वास्ता नहीं: सुशील मोदी

राज्य की बागमती और अधवरा समूह की नदियों का पानी भी लगातार बढ़ रहा है. बागमती नदी कटौझा व डुब्बा घाट में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. वहीं अधवारा समूह की नदियां सुंदरपुर और पुपरी में खतरे के निशान से ऊपर है. दरंभगा जिले में भी बागमती नदी का जलस्तर बढ़ रहा है. हनुमाननगर प्रखंड की सभी 14 पंचायतों में बाढ़ का पानी घुसने से स्थिति विकराल हो गई है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें