CM नतीश के बाद पेगासस मुद्दे पर मांझी भी विपक्ष के साथ, कहा- जासूसी मामले की हो जांच

Smart News Team, Last updated: Tue, 3rd Aug 2021, 2:10 PM IST
  • बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पेगासस मामले के बयान के बाद अब एनडीए के सहयोगी हम पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने भी जासूसी कांड पर बयान दिया है. मांझी ने कहा कि फोन टैपिंग की जांच होनी चाहिए.
नतीश के बाद पेगासस मुद्दे पर मांझी भी विपक्ष के साथ, कहा- जासूसी मामले की हो जांच

पटना. पेगासस मामले को लेकर हाल ही में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बयान दिया था. विपक्षी पार्टियों की मांग को देखते हुए नीतीश ने कहा था कि इस मामले की जांच केंद्र सरकार को करानी चाहिए. नीतीश के पेगासस जासूसी मामले की जांच की मांग के बयान से राजनीतिक पारा बढ़ गया था. अब बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हम प्रमुख जीतन राम मांझी ने भी नीतीश के सुर मिलाए हैं, मांझी ने पेगासस मामले को लेकर एक ट्वीट किया है. मांझी ने अपने ट्वीट में कहा है कि सरकार को पेगासस मामले की जांच करा लेनी चाहिए.

एनडीए के सहयोगी हम पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मांझी ने ट्वीट करते हुए लिखा है- अगर विपक्ष किसी मामले की जांच की मांग कर लगातार संसद का काम प्रभावित कर रहा है तो यह गंभीर मामला है. मुझे लगता है वर्तमान परिस्थितियों को ध्यान में रखकर पेगासस जासूसी मामले की जांच करा लेनी चाहिए, जिससे देश को पता चल पाए कि कौन किन लोगों की जासूसी करवा रहा है.

बिहार के सीएम नीतीश ने जनता दरबार के बाद मीडिया से बात करते हुए पेगासस मामले पर अपना बयान दिया था. नीतीश ने कहा था फोन टैपिंग की बात कई दिनों से सामने आ रही है. सरकार को इस मामले को गंभीरता से लेना चाहिए और इसके लिए उचित कदम उठाने चाहिए. इसके साथ ही जासूसी कांड की जांच भी होनी चाहिए क्योंकि सरकार को यह भी जानना चाहिए कि फोन हैकिंग के पीछे कौन है.

पेगासस मुद्दे पर विपक्ष के साथ आए CM नीतीश कुमार, कहा- जासूसी कांड की हो जांच

बता दें कि पेगासस मामले में विपक्ष सरकार को घेरने में लगा हुआ है. हालांकि सरकार ने इस मामले को लेकर साफ कह दिया है कि विपक्ष सरकार और देश को बदनाम करने की कोशिश कर रहा है. सरकार का आरोप है कि विपक्ष पेगासस मामले की जांच की मांग को संसद में उठाता है जिससे संसद की काम प्रभावित होता है.

फोन टैपिंग पर बोले तेजस्वी यादव- सरकार बेडरूम में झांकने लगे इससे बुरा कुछ नहीं

हाल ही में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पेगासस से संबंधित आरोपों को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार को घेरने के लिए एक संयुक्त रणनीति पर फैसला करने के लिए कई विपक्षी नेताओं के साथ मुलाकात करके एक बैठक की. जिसमें लोकसभा और कांग्रेस के राज्यसभा सांसदों के अलावा, तृणमूल कांग्रेस, एनसीपी, शिवसेना, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी-मार्क्सवादी, राष्ट्रीय जनता दल और समाजवादी पार्टी सहित कई विपक्षी दलों के नेता आए. वहीं इस बैठक में झारखंड मुक्ति मोर्चा, जम्मू और कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस, इंडिया यूनियन मुस्लिम लीग, रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी और केरल कांग्रेस-M के नेता भी मौजूद थे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें