बिहार में 'स्पेशल 26' जैसी ठगी, बालू कारोबारी के घर फर्जी IT रेड, 35 लाख कैश लेकर फरार नकली अफसर

Swati Gautam, Last updated: Mon, 31st Jan 2022, 11:02 PM IST
  • बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार की फिल्म स्पेशल 26 की तरह बिहार के लखीसराय जिले में एक बालू व्यापारी के घर पर कुछ लुटेरों ने फर्जी आईटी ऑफिसर बनाकर छापा मारा और घर से 25 लाख कैश व 10 लाख के जेवरात लेकर फरार हो गए.
बिहार में 'स्पेशल 26' जैसी ठगी, बालू कारोबारी के घर फर्जी IT रेड, 35 लाख कैश लेकर फरार नकली अफसर

पटना. बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार की फिल्म ‘स्पेशल 26’ तो आपने देखी ही होगी की किस तरह लुटेरों ने सीबीआई की नकली टीम बनाई और कई व्यापारियों के घर पर रेड डाल कर उनके घर से कैश और गहने लेकर फरार हो गया. लेकिन यह कहानी अब सिर्फ फिल्म तक सीमित नहीं रही. ऐसी ही एक घटना असल जिंदगी में बिहार के लखीसराय जिले में देखने को मिली है जहां कुछ शातिर फर्जी इनकम टैक्स अधिकारी बनकर एक बालू व्यापारी के घर पहुंचे और  25 लाख कैश व 10 लाख के जेवरात लेकर फरार हो गए. जाते जाते लुटेरों ने पीड़ित से कहा कि इनकम टैक्स कार्यालय जा रहे हैं, वहीं मिलना.

जानकारी के अनुसार फर्जी आईटी अफसरों ने यह लूट बिहार के लखीसराय जिले में  बालू व्यापारी संजय सिंह के घर की है. जैसे ही संजय को सच्चाई की जानकारी मिली तो उन्होंने पुलिस के पास आनन-फानन में केस दर्ज करवाया. संजय ने पुलिस को बताया कि दोपहर लगभग ढाई बजे चारपहिया वाहन से फर्जी इनकम टैक्स अधिकारी बनकर आए पांच पुरुष व दो महिलाएं आईं. उस समय संजय बाहर था घर में पत्नी एवं तीन बच्चे थे. फर्जी आईटी अफसरों ने सबसे पहले सभी के मोबाइल कब्जे में ले लिए फिर घर में रखे 25 लाख रुपए नकद और 10 लाख के जेवरात लेकर फरार हो गए.

Video: तूने मारी एंट्री गाने पर जेठालाल और बबीता जी का डांस देख कहेंगे वाह टप्पू के पापा

पीड़ित संजय ने कहा कि घर से किसी ने बालू व्यवसायी संजय को फोन कर घटना के बारे में जानकारी दी तो संजय तुरंत अपने घर पहुंचे. उनको बदमाशों ने खुद को इनकम टैक्स अधिकारी बताते हुए चालक के साथ अपने वाहन में बैठा लिया. इसके बाद बदमाशों ने संजय को घर के अंदर करके मेन गेट को बाहर से बंद कर दिया और वाहन लेकर फरार हो गये. जब संजय ने गेट खोलना चाहा तो वह बाहर से बंद मिला. संजय ने किसी को बुलवाकर घर का गेट खुलवाया और इनकम टैक्स कार्यालय पहुंचे तो जानकारी मिली कि वहां से किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं हुई है.

संजय ने घटना के बारे में कबैया थाने में जानकारी दी तो पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई. कबैया थानाध्यक्ष राजीव कुमार ने भी घटनास्थल पर पहुंचकर संजय तथा घर के अन्य लोगों से घटना के संबंध में विस्तृत जानकारी ली. पुलिस ने सीसीटीवी खंगाला तो बदमाशों की रिकॉर्डिंग मिली जिसके आधार पर बदमाशों की तलाश की जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें