राज्यकर्मियों को बिहार नीतीश सरकार की सौगात, 28 फीसदी दिया जाएगा महंगाई भत्ता

Smart News Team, Last updated: Tue, 17th Aug 2021, 10:33 AM IST
  • पटना में गांधी मैदान में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में सीएम नीतीश कुमार ने प्रदेश की जनता के लिए कई बड़ी सौगातों की घोषणा की. सीएम ने राज्य कर्मचारियों, किसानों, महिलाओं और स्टूडेंट्स से जुड़ी कई घोषणाएं की. 
सीएम ने कहा कि केंद की तर्ज पर राज्य सरकार के अधिकारियों, कर्मियों एवं पेंशनधारियों को 1 जुलाई 2021 से महंगाई भत्ता 11 फीसदी से बढ़ाकर 28 फीसदी कर दिया जाएगा.

पटना. 15 अगस्त को गांधी मैदान में आयोजित स्वतंत्रता दिवस समारोह में सीएम नीतीश कुमार ने हर वर्ग के लिए कई बड़ी सौगातों की घोषणा की. सीएम ने राज्य कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को 28 फीसदी कर दिया. सीएम ने कहा कि केंद की तर्ज पर राज्य सरकार के अधिकारियों, कर्मियों एवं पेंशनधारियों को 1 जुलाई 2021 से महंगाई भत्ता 11 फीसदी से बढ़ाकर 28 फीसदी कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि जल्द ही इस संबंध में वित्त विभाग आदेश जारी करेगा. साथ ही उन्होंने महिला, स्टूडेंट्स और कृषि क्षेत्र से जुड़े कई विषयों को लेकर कई घोषणा की. इस मौके पर सीएम ने 15वीं बार स्वतंत्रता दिवस पर ध्वजारोहण किया.

प्रतियोगी परीक्षा से होगी प्रिंसिपल की नियुक्ति

सीएम नीतीश कुमार ने माध्यमिक विद्यालयों में प्रिंसिपल की नियुक्ति प्रतियोगी परीक्षा के आधार पर होगी. सीएम ने बताया कि स्कूली शिक्षा में विकास एवं गुणवत्ता सुधारने के लिए कुशल व प्रभावी नेतृत्व की आवश्यकता होती है. इसके लिए अब प्रदेश में प्रारंभिक विद्यालयों में हेड मास्टर कमीशन और उच्च माध्यमिक विद्यालय में प्रिंसिपल कमीशन का गठन होगा. अब इन पदों पर नियुक्ति प्रतियोगी परीक्षा से होगी.

बिहार में किताब के लिए सवा करोड़ बच्चों के खातों में पैसे भेजेगी सरकार, फुल डिटेल

एससी/एसटी वर्ग के युवाओं को सिविल सेवा की तैयारी करने पर मिलेगी प्रोत्साहन राशि

अब प्रदेश में अनुसूचित जाति-जनजाति और अति पिछड़ा वर्ग के युवक व युवतियों को बिहार लोक सेवा आयोग की प्रारंभिक परीक्षा पास करने पर सरकार मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए 50 हजार और संघ लोक सेवा आयोग की मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए 1 लाख रुपए सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के तहत देगी. अब सरकार महिलाओं की प्रशासनिक सेवाओं में भागीदारी बढ़ाने के लिए इस तर्ज पर योजना शुरू करेगी.

एससी/एसटी वर्ग के लिए छात्रवृत्ति की बढ़ाई जाएगी आय सीमा

बिहार सरकार पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति के लिए अनुसूचित एव अन्य पिछड़े वर्ग के लिए स्टूडेंट्स की परिवारिक आय की सीमा 3 लाख करने की तैयारी कर रही है. बढ़ी हुई आय सीमा के कारण होने वाले अतिरिक्त खर्च को राज्य सरकार वहन करेगी. अभी तक केंद्र सरकार द्वारा यह आय सीमा 2.5 लाख रुपए निर्धारित की गई है.

बाढ़ से रेलवे संचालन प्रभावित,UP-दिल्ली समेत इन रूटों की कई ट्रेनें रद्द-डायवर्ट

2700 करोड़ से होगा कृषि बाजार समिति का जीर्णोद्धार

सीएम ने किसानों को बाजार उपलब्ध कराने के लिए बाजार समितियों के जीर्णोद्धार की घोषणा की. 2700 करोड़ की लागत से होने वाले इस काम में बाजार में अनाज, फल, सब्जी और मछली की अलग बाजार व्यवस्था और स्टोरेज की सुविधा किसानों को उपलब्ध कराई जाएगी. साथ ही कृषि से जुड़ी शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए बिहार कृषि विश्वविद्यालय के अधीन तीन कृषि महाविद्यालय खोलने की घोषणा की. जिसमें सबौर में कृषि जैव प्रौद्योगिकी महाविद्यालय, भोजपुर में कृषि अभियंत्रण महाविद्यालय और पटना में कृषि व्यवसाय प्रबंधन महाविद्यालय की स्थापना की जाएगी.

दुग्ध सहकारी समितियों में महिलाओं को मिलेगा 40 फीसदी आरक्षण

सीएम ने प्रदेश के सभी गांवों में अगले 4 साल में दुग्ध सहकारी समितियां बनाने की घोषणा की. इन समितियों में 40 फीसदी महिला दुग्ध समितियां होंगी. साथ ही सुधा डेयरी के उत्पादों के लिए विक्रय केंद्रों का विस्तार शहर के साथ ग्रामीण इलाकों में भी किया जाएगा. साथ ही आगामी 4 सालों में नगर निकाय एवं प्रखंड स्तर तक सुधा डेयरी के उत्पादों के लिए बिक्री केंद्र खोले जाएंगे.

पर्यावरण विभाग के अंतर्गत होगा इको टूरिज्म का विकास

बिहार में अब इको टूरिज्म से जुड़े सभी विकास कार्य पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के अंतर्गत होंगे. इसके लिए विभाग में ईको टूरिज्म विंग बनाकर काम किया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें