अनुकंपा पर नौकरी पाने वालों के लिए बिहार सरकार ने बदले नियम

Smart News Team, Last updated: Fri, 16th Jul 2021, 5:19 PM IST
  • बिहार सरकार ने अनुकंपा पर मिलने वाली नौकरी के नियमों में बड़ा बदलाव किया है. जो लोग अुनकंपा की नौकरी के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाते थे उनके लिए यह राहत की खबर है.
बिहार सरकार ने अनुकंपा पर नौकरी पाने वालों के लिए बदले नियम

पटना. बिहार सरकार ने अनुकंपा पर मिलने वाली नौकरियों को लेकर एक बड़ा बदलाव किया है. बिहार सरकार के नए आदेश के अनुसार सरकार ने अनुकंपा वाली बहाली पर अधिकतम संख्या की सीमा को खत्म कर दिया है. इस फैसले के आने के बाद सामान्‍य प्रशासन विभाग द्वारा इससे संबंधित आदेश भी जारी कर दिए गए हैं. अब अनुकंपा पर मिलने वाली नौकरी के लिए बहाली हिसाब से की जाएगी. सरकार द्वारा दिए गए इस फैसले को गजट में भी प्रकाशित कर दिया गया है. 

सरकार के पास यह मामला लंबे समय से विचाराधीन था लेकिन अब इस फैसले को लेकर सरकार ने उन लोगों को भी राहत दी है जो अनुकंपा पर नौकरी पाने के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाते रहते थे. इस नौकरी के लिए परिवार वालों को काफी परेशानी झेलनी पड़ती थी लेकिन अब सरकार के इस फैसले के बाद नई व्यवस्था लागू की गई है.

 जिसके अनुसार उपलब्ध पदों के प्रतिशत का बंधन पूरी तरीके से खत्म कर दिया गया है. अब सरकारी कर्मचारी का नौकरी के समय में निधन होता है तो इस हालत में उसके आश्रित को निम्न वर्गीय लिपिकीय सेवा में सीधे तौर पर नियुक्ति की जाएगी. इस नियुक्ति के लिए आयोग की सिफारिश की भी जररूत भी नहीं पड़ेगी.

पटना के तीन थानों में SHO बदले, बुद्धा कॉलोनी, बिहटा में नया थानेदार

पटना हाईकोर्ट की सलाह पर सरकार ने अनुकंपा पर नौकरी के नियमों में बदलाव किया है. इस बदलाव के बाद के आश्रितों को राज्य सरकार ने बड़ी राहत दी थी. अब वे अपने स्वजन के लापता होने की तारीख से 12 वर्ष बाद तक अनुकंपा के आधार पर नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें