संक्रामक रोग से पशुओं की मौत पर पशुपालक को मुआवजा, गाय-भैंस पर मिलेंगे 30 हजार

Smart News Team, Last updated: Sun, 27th Jun 2021, 10:37 AM IST
  • संक्रामक रोग से पशुओं की मृत्यु होने पर अब राज्य सरकार की ओर से पशुपालकों को मुआवजा दिया जाएगा. किसी भी परिवार में अधिकतम तीन पशुओं के लिए मुआवजा मिलेगा.
संक्रामक रोग से पशुओं की मृत्यु पर राज्य सरकार देगी मुआवजा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पटना. राजधानी पटना से पशुपालकों के लिए एक अच्छी खबर सामने आई है. राज्य सरकार अब संक्रामक रोग के कारण अधिक संख्या में पशुओं की मौत होने पर पशुपालकों को मुआवजा देगी. पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है. संक्रामक रोग या प्राकृतिक आपदा के कारण पशुओं की मौत होने से पशुपालकों को भारी आर्थिक नुकसान होता है. ऐसे में मुआवजा मिलने पर उन्हें आर्थिक रूप से काफी राहत मिलेगी. 

इस योजना के तहत सवा करोड़ राशि खर्च करने की भी स्वीकृति प्राप्त हो गई है. किसी भी परिवार में अधिकतम तीन पशुओं की संक्रामक रोग से मृत्यु होने पर मुआवजा दिया जाएगा. एक दुधारु पशु यानी गाय-भैस की मृत्यु पर 30 हजार रुपये मुआवजे के रूप में दिए जाएंगे. वहीं एक ऊंट, घोड़ा, बैल आदि की मृत्यु पर 25 हजार रुपये प्राप्त होंगे. इसके अलावा वयस्क भेड़-बकरी के लिए 3 हजार रुपये मिलेगें. वहीं एक बछड़ा, गधा, खच्चर के लिए 16 हजार रुपये दिए जाएंगे. 

NDA का फैसला- पंचायत चुनाव का टिकट लेने वाले उम्मीदवारों का टीकाकरण जरूरी

पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि संक्रामक रोग के प्रकोप से अधिक संख्या में पशुओं की अप्राकृतिक मृत्यु होने पर पशुपालकों को भारी आर्थिक क्षति पहुंचती है. इस योजना का उद्देश्य पशुपालकों को ऐसी स्थिति में होने वाले नुकसान की भरपाई करना है. बता दें कि प्राकृतिक आपदा से होने वाली मौत पर आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से मुआवजा देने का प्रावधान है. ऐसी स्थिति में डीएम के माध्यम से जांच के बाद भारत सरकार की ओर से निर्धारित दर पर मुआवजा दिया जाता है. अब प्राकृतिक आपदा के अलावा अन्य कारणों से पशुओं की अधिक संख्या में मौत पर भी मुआवजा दिया जाएगा.  

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें