विपक्ष ने नीतीश सरकार को घेरा, CM बोले-17 अप्रैल को हाई लेवल मीटिंग के बाद फैसला

Smart News Team, Last updated: Fri, 16th Apr 2021, 8:36 PM IST
  • बिहार में कोरोना के बढ़ते केस पर विपक्ष ने नीतीश कुमार निशाना साधा है. वहीं नीतीश कुमार ने कहा कि 17 अप्रैल को राज्यपाल की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक बुलाई है. जिसमें सुझावों के बाद आगे का फैसला लिया जाएगा.
कोरोना को लेकर बिहार के राज्यपाल ने 17 अप्रैल को सर्वदलीय बैठक बुलाई है.

पटना. बिहार में कोरोना के मामले लगतार बढ़ रहे हैं. जिस पर विपक्ष ने नीतीश सरकार को घेरा है. कांग्रेस नेता प्रेमचन्द्र मिश्रा ने कहा कि नीतीश कुमार सरकार से बिहार में कोरोना के हालत संभल नहीं रहे हैं. वहीं सीएम नीतीश कुमार पहले ही कह चुके हैं कि 17 अप्रैल को राज्यपाल की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक बुलाई है. जिसमें सुझावों के बाद फैसला लिया जाएगा.

बिहार में कोरोना से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्देश पर राज्यपाल फागू चौहान ने शनिवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई है. इससे पहले शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सभी विभागों के शीर्ष अधिकारियों के साथ मीटिंग की है. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई इस बैठक में कोरोना संक्रमण के हालात, अस्पतालों में बेडों की संख्या ऑक्सीजन की आपूर्ति और इलाज की व्यवस्था की समीक्षा की है.

25 अप्रैल तक बंद रहेगा बिहार विधानसभा सचिवालय, 20 लोग कोरोना संक्रमित

इस बैठक से पहले जदयू के नीरज कुमार ने कहा कि जनहित में बेहतर क्या हो सकता है? इसकी समीक्षा के बाद सरकार फैसला लेगी. बीजेपी नेता प्रमरंजन पटेल ने कहा कि सर्वदलीय बैठक में सभी के विचार जानने के बाद सरकार फैसला ले सकती है. वहीं कांग्रेस ने कहा पिछली बार जितने मामले मिलने पर लॉकडाउन लगाया था, इस बार उससे ज्यादा मामले मिल रहे हैं.

CM नीतीश ने ली कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज, बिहार में नाइट कर्फ्यू पर कही ये बात

आपको बता दें कि बिहार में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 6 हजार 133 नए केस सामने आए हैं. वहीं कोरोना के 755 मरीज पूरी तरह से ठीक होकर घर लौट चुके हैं और 24 लोगों की पिछले 24 घंटे में कोविड से मौत हो चुकी है. नए मामलों के बाद बिहार में कोरोना के कुल एक्टिव मामले 29 हजार 78 हो गए हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें