JDU प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा का दावा- जल्द टूटेगा कांग्रेस-RJD का महागठबंधन

Smart News Team, Last updated: Thu, 14th Jan 2021, 5:36 PM IST
  • जदयू प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा ने कहा कि खरमास हो गया है. बहुत जल्द ही आपको महागठबंधन की टूट दिखाई देगी. इससे पहले बिहार बीजेपी प्रभारी भूपेन्द्र यादव ने कहा था कि राजद में टूट निश्चित है.
जदयू प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा ने कहा कि महागठबंधन में जल्द ही टूट दिखाई देगी.

पटना. बिहार में महागठबंधन पर निशाना साधते हुए जदयू प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा ने कहा कि महागठबंधन में बहुत जल्द टूट दिखाई देगी. इससे पहले बिहार बीजेपी प्रभारी भूपेन्द्र यादव ने कहा था कि खरमास के बाद राजद में टूट  निश्चित है. आपको बता दें कि जुबानी जंग की शुरुआत राजद ने की थी. राजद ने कहा था कि जदयू के कई विधायक टूटने को तैयार हैं.

जिसके बाद अब जदयू प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा ने कहा कि खरमास खत्म हो गया है. बहुत जल्द ही आपको महागठबंधन की टूट होते दिखेगी. वहीं हिन्दुस्तान आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने गुरुवार को ट्वीट करते हुए कहा कि आज ही न 14 तारीख है जी? वो राजद के बड़का नेता लोग कहा था कि 14 जनवरी को जदयू के 17 विधायक लेकर महागठबंधन की सरकार बनाएंगे. पता कीजिए वो लोग खुद ही राजद में हैं कि निकल लिए.

राजद से जीतन राम मांझी का सवाल- कहां गए 14 जनवरी को सरकार बनाने वाले?

इससे पहले बीजेपी बिहार प्रभारी भूपेन्द्र यादव ने कहा था कि खरमास के बाद राजद में टूट निश्चित है. परिवारवाद के खिलाफ राजद में पार्टी के कार्यकर्ता और नेता आवाज उठाने लगे हैं. बिहार में एनडीए पूरी तरह से एकजुट है. उन्होंने कहा कि अगले पांच सालों तक सीएम नीतीश कुमार के नेतृत्व में सरकार बिहार को विकास की दिशा में आगे बढ़ाती रहेगी.

पटना: अस्पतालों में दीदी की रसोई चलाएगी कैंटीन, मंत्री मंगल पांडेय ने दी जानकारी

बीजेपी प्रभारी भूपेन्द्र यादव के इस बयान पर जदयू सांसद ललन सिंह ने कहा कि भूपेन्द्र जी ने तो कम ही कहा है. वास्तव में वह जिस दिन चाह लें, राजद का भाजपा में विलय हो जाएगा. आपको बता दें कि अरुणाचल प्रदेश में बीजेपी और जदयू मामले में राजद नेता श्याम रजक ने कहा था कि जदयू के 17 विधायक कभी भी राजद में शामिल हो सकते हैं. इस बयान के बाद बिहार सियासत में बवाल मच गया है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें