बिहार में जहरीली शराब से मौतों पर राजनीति, तेजस्वी ने नीतीश सरकार पर लगाया बड़ा आरोप

Shubham Bajpai, Last updated: Thu, 4th Nov 2021, 9:05 PM IST
  • बिहार में जहरीली शराब से मौतों को लेकर नेता प्रतिपक्ष और राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री पर बड़ा आरोप लगाते हुए लगातार कई ट्वीट किये. तेजस्वी ने कहा बिहार की दो विधानसभा सीटों में सीएम की शह पर शराब बंटवाई गई थी. जिसके बाद ये मौतें हुईं.
जहरीली शराब से मौतों पर नीतीश सरकार पर तेजस्वी का बड़ा आरोप, उपचुनाव से पहले बंटवाई शराब

पटना. बिहार के गोपालगंज, बेतिया और मुजफ्फरपुर में हुई संदिग्ध मौतों के मामले को लेकर राष्ट्रीय जनता दल के नेता और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव प्रदेश की सरकार और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमलावर दिखे. मौतों के मामलों में सरकार की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए तेजस्वी यादव ने लगातार कई ट्वीट किए और सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाए.

बता दें कि गोपालगंज में अब तक कथित तौर पर जहरीली शराब से 17 लोगों की मौत हुई है. वहीं, बेतिया में अब तक 8 लोग अपनी जान गवां चुके हैं. जानकारी अनुसार, अभी मौतों का आंकड़ा बढ़ सकता है.

सीएम की शह पर उपचुनाव में बांटी गई शराब

सीएम नीतीश कुमार पर बड़ा आरोप लगाते हुए तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया कि उपचुनाव में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी की शह पर उनके मंत्रियों और पुलिस प्रशासन ने स्वयं मतदाताओं के बीच शराब वितरण किया. किस बात की शराबबंदी? इन मौतों का जिम्मेदार कौन है? बिहार में 20 हजार करोड़ की अवैध तस्करी और समांतर ब्लैक इकॉनमी के सरगना सामने आकर इसका जवाब दें। 

बिहार में दिवाली पर 14 घरों का दीया बुझा, RJD बोली- नीतीश की शराबबंदी का क्रूर सच

बिना पोस्टमार्टम पुलिस ने जला दिए अधिकांश शव

तेजस्वी ने पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए बिना पोस्टमार्टम शव जलाने का आरोप लगाया. तेजस्वी ने अपने अगले ट्वीट में लिखा कि मुजफ्फरपुर में 5 दिन पूर्व जहरीली शराब से 10 मरे. कल और आज गोपालगंज में 20 लोग मरे. बेतिया में आज 13 लोग मरे. अधिकांश शवों को पुलिस बिना पोस्टमार्टम जला रही है. इन मौतों के जिम्मेदार क्या शराबबंदी का बेसुरा ढोल पीटने वाले मुख्यमंत्री सह गृहमंत्री नीतीश कुमार नहीं है?

सीएम जश्न में मस्त, इसलिए नहीं संज्ञान लेने का समय

तेजस्वी ने अगले ट्वीट में घटना में मारे गए लोगों को संवेदना व्यक्त की और इस मामले में सीएम द्वारा संवेदना या संज्ञान ने लेने को लेकर निशाना साधा. तेजस्वी ने लिखा कि इस दर्दनाक घटना पर गहरी शोक संवेदना प्रकट करता हूं. ईश्वर शोकाकुल परिजनों को दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें. बिहार को पलायन के साथ-साथ इस दर्द को भी सहना पड़ता है. मुख्यमंत्री जश्न में मस्त है इसलिए उन्हें इन घटनाओं का संज्ञान लेने और संवेदना प्रकट करने का समय भी नहीं है.

पेट्रोल-डीजल के दाम घटना सब नाटक, चुनाव बाद सरकार फिर बढ़ा देगी रेटः लालू यादव

वीडियो शेयर कर शराबबंदी को बताया किसी की सनक

तेजस्वी ने एक महिला का रोता हुआ वीडियो शेयर कर शराबबंदी को किसी की सनक बताया और एनडीए सरकार को गड़बड़ डीएनए वाली कहा. तेजस्वी ने ट्वीट किया कि इन चीखों का गड़बड़ डीएनए वाली एनडीए सरकार और तीन नंबरिया पार्टी के मुखिया पर कुछ फर्क नहीं पड़ता. जहरीली शराब से बिहार में दिवाली के दिन सरकार द्वारा 35 से अधिक लोग मारे गए. हां! किसी की सनक से बिहार में कागजों पर शराबबंदी है अन्यथा खुली छूट है क्योंकि ब्लैक में मौज और लूट है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें