पटना

इस बार पटना डूबा तो अधिकारियों की खैर नहीं, जानें नगर विकास मंत्री ने क्या कहा

Smart News Team, Last updated: 23/06/2020 11:48 AM IST
  • पिछले साल की तरह अगर बारिश की वजह से पटना का बुरा हाल हुआ तो इस बार अधिकारियों की खैर नहीं है, इसके संकेत नगर विकास एवं आवास मंत्री सुरेश कुमार शर्मा ने दे दिए हैं। मंत्री सुरेश कुमार शर्मा ने सोमवार को कहा कि पटना को जलजमाव से मुक्ति दिलाने को जो भी संसाधन मांगे गए, सरकार ने दिए हैं।
पटना में पिछले साल आई बारिश के बाद बाढ़ की तस्वीर

पिछले साल की तरह अगर बारिश की वजह से पटना का बुरा हाल हुआ तो इस बार अधिकारियों की खैर नहीं है, इसके संकेत नगर विकास एवं आवास मंत्री सुरेश कुमार शर्मा ने दे दिए हैं। मंत्री सुरेश कुमार शर्मा ने सोमवार को कहा कि पटना को जलजमाव से मुक्ति दिलाने को जो भी संसाधन मांगे गए, सरकार ने दिए हैं। इसके बाद भी अगर पटना डूबा तो नगर विकास और बुडको के आला अधिकारियों की खैर नहीं है। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

मंत्री सुरेश शर्मा ने कहा कि अधिकारियों ने हमें आश्वस्त किया है कि 30 जून तक सारे काम पूरे कर लिए जाएंगे। उम्मीद है कि इस बार पटनावासियों को पहले जैसे हालात नहीं झेलने पड़ेंगे। बता दें कि पिछले साल बारिश की वजह से पटना में बाढ़ जैसे हालात थे और करीब 15 से 20 दिनों तक एक बड़ी आबादी को संकट का सामना करना पड़ा था।

पटना में मीडिया कर्मियों से बातचीत में नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा ने कहा कि पिछले साल अधिकारियों की लापरवाही के कारण ही भारी फजीहत झेलनी पड़ी थी। मगर इस बार ऐसा नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि हाल में जो 94 एमएम बारिश हुई है। उस दिन अधिकांश स्थानों से पानी निकल गया। कुछ जगह जलजमाव हुआ तो उस पानी को पंप लगाकर निकलवाया गया।

उन्होंने आगे कहा कि हाल ही में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी संप हाउसों का दौरा कर हालात का जायजा लिया है। संप हाउसों पर काम तो हुआ है। जहां पंप पहले डूब गए थे, वहां इस बार ऊंचाई बढ़ाई गई है। मशीनरी की मरम्मत सहित दूसरे काम कराए गए हैं। अधिकारियों ने आश्वस्त किया है कि इस बार जलजमाव नहीं होने देंगे।

अन्य खबरें