बिहार में अब लोगों के घर ई-मेल, मैसेज और रजिस्ट्री से पहुंचेगा मृत्यु प्रमाण पत्र, जानें डिटेल

Smart News Team, Last updated: Sun, 16th May 2021, 8:52 AM IST
  • बिहार नगर विकास विभाग लोगो को घर पर SMS, ईमेल और रजिस्ट्री पोस्ट के माध्यम से परिजन को मृतक का मृत्यु प्रमाण पत्र पहुंचाएगी. वही इसके लिए परिजन को अपने क्षेत्र के नगर निगम वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा.
बिहार में अब लोगों के घर ई-मेल, मैसेज और रजिस्ट्री से पहुंचेगा मृत्यु प्रमाण पत्र, जानें डिटेल

पटना. बिहार में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों की वजह से राज्य में लॉकडाउन लगा दिया गया है. जिसके कारण लोगों का बाहर निकलना मुश्किल हो गया है. वही इस कोरोना माहमारी में मृतकों के मृत्यु प्रमाण पत्र को लेने के लिए परिजनों को दफ्तरों के चक्कर लगाना मुश्किल हो गया है. जिसे देखते हुए बिहार नगर विकास विभाग ने इससे छुटकारा दिलाने का फैसला किया है. वही इस फैसले के तहत अब विभाग लोगों के मृत्यु प्रमाण पत्र उनके परिजनों को एसएमएस, ईमेल और रजिस्टर पोस्ट के जरिए उनके घर पर पहुंचाएगा. 

बिहार में कोरोना संक्रमण या अन्य कारणों से हुई मृत लोगों का प्रमाण पत्र उनके परिजन के घर तक पहुंचाने जा रही है. जिसका फैसला विभाग के प्रधान सचिव आनंद किशोर ने लिया हैं. वही उनके जारी किए गए निर्देश के अनुसार अब परिजन अपने लोगों का मृत्यु प्रमाण पत्र एसएमएस, ईमेल आईडी और रजिस्टर पोस्ट के जरिए प्राप्त कर पाएंगे. 

कोरोना से मरने वालों के कागज गड़बड़, डेथ सर्टिफिकेट पर नहीं लिखा कोविड से मौत

लोगों को अपने परिजन का मृयु प्रमाण पत्र घर पर प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा. जिसके लिए उन्हें अपने क्षेत्र के नगर निगम वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा. वही आवेदन में पूछे गए सभी जानकारी को भरने के साथ ही फोन नम्बर, ईमेल आईडी और घर का पता दर्ज करना होगा. जिसके बाद अगले चार से पांच दिनों में आवेदक को मृतक का मृत्यु प्रमाण पत्र बनाकर भेज दिया जाएगा. 

मुजफ्फरपुर में कोरोना वैक्सीन का दूसरा डोज लेने आए बुजुर्गों का हंगामा

वही अगर जिनके पास ईमेल आईडी नहीं है वह रजिस्टर पोस्ट का डाक खर्च देकर मृत्यु प्रमाण पत्र की मूल कॉपी को अपने पते पर मंगा सकते है. वही जिनके पास एसएमएस और ईमेल दोनों की सुविधा नहीं है वह तत्काल प्रमाण पत्र की सुविधा ले सकते है. जिसमे उन्हें प्रिंटेड घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर या फिर अंगूठा का निशान लगाकर पंजीकृत डाक के जरिए मृत्यु प्रमाण पत्र हासिल कर सकते है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें