मुजफ्फरपुर के सस्पेंड DTO के पटना में बैंक लॉकर की तलाशी, लाखों का सोना-चांदी बरामद

Nawab Ali, Last updated: Wed, 25th Aug 2021, 6:24 PM IST
  • विजिलेंस ने बिहार के मुजफ्फपुर में आय से अधिक संपत्ति रखने के आरोप में निलंबित डीटीओ रजनीश लाल के बैंक लॉकर को खंगाला. विजिलेंस ने लॉकर में से तकरीबन बीस लाख रूपये की कीमत के सोने-चांदी की ज्वेलरी बरामद की है. इससे पहले निलंबित डीटीओ के दो फ्लैट पर छापेमारी में विजिलेंस ने 50 लाख रूपये बरामद किये थे
पटना में विजिलेंस की टीम ने निलंबित डीटीओ की बैंक लॉकर से लाखों की ज्वेलरी बरामद.

पटना. बिहार के मुजफ्फरपुर में तैनात डीटीओ रजनीश लाल को आय से अधिक संपत्ति रखने के आरोप में 24 जून को निलंबित किया गया था. जिसके बाद से ही विजिलेंस ने डीटीओ रजनीश लाल के बैंक खातों और संपत्तियों को लेकर कार्रर्वाई शुरू कर दी थी. विजिलेंस की टीम ने पटना के एक निजी बैंक के लॉकर को खंगाला तो चौंकाने वाला खुलासा सामने आया है. पटना के अशोक नगर में स्थित एक निजी बैंक के लॉकर नंबर 65 को खंगालने पर विजलेंस को करीब 20 लाख रूपये की कीमत के सोने-चांदी के आभूषण बरामद हुए हैं.

आरोपी डीटीओ रजनीश लाल के माता-पिता के नाम पर यह लॉकर था. जिसके बाद लॉकर की जानकारी होने पर बिजिलेंस की टीम रजनीश लाल और उसकी पत्नी को बैंक लेकर पहुंची थी. खुलासा हुआ की इस बैंक लॉकर का इस्तेमाल रजनीश लाल किया करता था. माता-पिता के नाम पर इस लॉकर में रजनीश लाल व उसकी पत्नी नॉमिनी हैं. विजिलेंस की टीम के हाथ बैंक लॉकर की रशीद लगने के बाद यह खुलासा हुआ है. विजिलेंस की टीम लगातार इस मामले की गहराई से जांच कर रही है. अभी तक निलंबित डीटीओ रजनीश लाल के खिलाफ जांच में करोड़ों की संपत्ति का खुलासा हुआ है. 

हाय! मोहब्बत, पत्नी की डिमांड पूरी करने को बना चेन स्नैचर, फिर हुआ ये

इससे पहले भी विजिलेंस की टीम ने कार्रवाई करते हुए निलंबित डीटीओ की संपत्ति को लेकर चौंकाने वाले खुलासे किये थे. जांच टीम को पटना में कंकड़बाग में सुमन कश्यप अपार्टमेंट में दो फ्लैट में से 50 लाख रूपये बरामद किये थे. विजिलेंस टीम ने कई महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपने कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है. जांच टीम को ऐसे दस्तावेज मिले हैं जिनसे इन्वेस्टमेंट का खुलासा हो सकता है. विजिलेंस टीम इस मामले की जांच में जुटी हुई है. निलंबित डीटीओ रजनीश लाल की आय से अधिक संपत्ति रखने के मामले में कई बड़े खुलासे हो सकते हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें