नीतीश सरकार प्रवासी मजदूरों को बनाएगी बिजनेसमैन, 10 लाख का देगी लोन

Smart News Team, Last updated: 21/04/2021 10:26 AM IST
  • बिहार सरकार के श्रम संसाधन मंत्री जीवेश मिश्रा ने बताया कि दूसरे राज्यों से आने वाले प्रवासी मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए सरकार जुट गई है. नीतीश सरकार के पास पयालन कर आ रहे मजदूरों के लिए एक बड़ा प्लान है.
नीतीश सरकार प्रवासी मजदूरों को बनाएगी बिजनेसमैन, देगी 10 लाख का लोन

पटना. कोरोना की दूसरी लहर के चलते एक बार फिर राज्यों में लॉकडाउन लगने लगा है. जिसे देखते हुए फिर एक बार प्रवासी मजदूर अपने घरों को लिए निकल पड़े हैं. वहीं स्थिति यह बनी हुई है कि प्रवासी मजदूर बसों के छतों पर बैठकर अपने घर पहुंच रहे हैं. जिसे देखते हुए बिहार की सरकार ने बेहतर कदम उठाया है. बिहार की सरकार प्रवासी मजदूरों को अब उद्यमी बनाने जा रही है. सरकार श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने को लेकर नए प्लान ला रही है.

बिहार सरकार में श्रम संसाधन मंत्री जीवेश मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि जब कोरोना की पहली लहर आई थी तभी राज्य के अधिकतर प्रवासी मजदूरों की स्किल मैपिंग कर ली गई थी. उसी के आधार पर बहुत से मजदूरों को रोजगार भी दिया गया था. वहीं जब अब कोरोना का दूसरी लहर शुरू हुई है तब एक बार फिर  प्रवासी मजदूर आने लगे हैं. उनके रोजगार के लिए सरकार ने एक बार फिर से अपनी तैयरियां शुरू कर दी हैं. श्रम संसाधन मंत्री ने बताया कि पिछली बार करीब 3.50 लाख मजदूरों को रोजगार दिया गया था. 

IMA ने बिहार के 40 डॉक्टरों के नाम और नंबर किए जारी, कोरोना मरीज ले सकेंगे सलाह

जीवेश मिश्रा ने बताया कि एक बार फिर प्रवासी मजदूरों की स्किल मैपिंग की जा रही है. वहीं इस बार वह खुद का उद्योग खड़ा कर सकेंगे. इसके लिए उन्हें सरकार की तरफ से 10 लाख रुपए लोन दिए जाएगा. जिसमें 5 लाख रुपए सरकार की तरफ से अनुदान रहेगी. वहीं बाकी के 5 लाख को 84 किस्तों में उनसे वापस लिया जाएगा.

कोरोना मरीजों की मदद के लिए खास पहल, ऑडियो-वीडियो कॉल से ले सकेंगे डॉक्टरी सलाह

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें