घोटाले के आरोपों से घिरे बिहार के नव नियुक्त शिक्षा मंत्री मेवालाल का इस्तीफा

Smart News Team, Last updated: 19/11/2020 04:20 PM IST
  • बिहार के नव नियुक्त शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी ने अपने पद से इस्तीफा देकर सबको चौंका दिया है. माना जा रहा है कि उन पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपो की वजह से उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है.
घोटाले के आरोपों से घिरे बिहार के नव नियुक्त शिक्षा मंत्री मेवालाल का इस्तीफा

पटना. बिहार के नव नियुक्त शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी ने अपने पद से इस्तीफा देकर सबको चौंका दिया है. राजद चीफ तेजस्वी यादव समेत कई विपक्षी नेता और दल उनकी नियुक्ति पर सवाल उठाते हुए घोटाला आरोपी बता रहे थे. हालांकि, गुरुवार सुबह शिक्षा मंत्री ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को निराधार बताया और कुछ ही देर में अपने पद से इस्तीफा दे दिया.

हाल ही में बिहार के शिक्षा मंत्री बने मेवालाल चौधरी ने गुरुवार को इस्तीफा दे दिया है. शुक्रवार को ही उन्होंने शिक्षा मंत्री के रूप में पदभार संभाला था. माना जा रहा है कि उन पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपो की वजह से उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. 

मेवालाल को शिक्षा मंत्री बनाने से बिहारवासियों को क्या शिक्षा मिलती है: तेजस्वी

नीतीश सरकार में मेवालाल चौधरी के शिक्षा मंत्री बनने पर विपक्षी पार्टियां हमले कर रहीं थीं. राजद के तेजस्वी यादव ने उनके शिक्षा मंत्री बनने पर कहा था कि मुमुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा हत्या और भ्रष्टाचार के अनेक मामलों में IPC की 409, 420, 467, 468, 471 और 120 धारा के तहत आरोपी मेवालाल चौधरी को शिक्षा मंत्री बनाने से बिहारवासियों को क्या शिक्षा मिलती है?

डिप्टी CM से हटाए गए BJP नेता सुशील मोदी बने विधान परिषद में आचार समिति अध्यक्ष

आपको बता दें कि जदयू से विधायक मेवालाल चौधरी तारापुर विधानसभा से जीतकर आए हैं. उनको पहली बार कैबिनेट में शामिल किया गया है. इससे पहले 2015 तक मेवालाल चौधरी भागलपुर कृषि विश्वविद्यालय में कुलपति रहे थे. मेवालाल पर नियुक्ति घोटाले का आरोप है. जिसमें वो फिलहाल जमानत पर हैं. शिक्षा मंत्री बनने के बाद से उन पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों पर निशाना साधा जा रहा है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें