बिहार पंचायत चुनाव 2021 की तैयारियां शुरू, उप निर्वाचन अधिकारी नियुक्त

Smart News Team, Last updated: 06/12/2020 06:50 PM IST
  • बिहार पंचायत चुनाव 2021 के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी जिलाधिकारियों को उप निर्वाचन अधिकारी नियुक्त किया. इसके अलावा राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी जिलों में कितने चरणों में चुनाव कराया जाए. इसका प्रस्ताव बताने का निर्देश दिया.
बिहार निर्वाचन आयोग ने सभी जिलों के जिलाधिकारियों को को बिहार पंचायत चुनाव का उप निर्वाचन अधिकारी नियुक्त किया. प्रतीकात्मक तस्वीर

पटना. बिहार पंचायत चुनाव 2021 की तैयारियां शुरू हो गई हैं. बिहार पंचायत चुनाव के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी जिलाधिकारियों को उप निर्वाचन अधिकारी नियुक्त किया है. इसके अलावा राज्य निर्वाचन आयोग ने पंचायत और जिला पंचायतीराज पदाधिकारी को भी उप निर्वाचन पदाधिकारी नियुक्त किया है. आपको बता दें कि बिहार में लागू त्रिस्तरीय पंचायतीराज व्ययवस्था व्यवस्था के तहत 2.58 लाख पदों के लिए ग्रामीण क्षेत्रों के मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे.

राज्य निवार्चन आयोग ने सभी जिलों में कितने चरणों में चुनाव कराया जाए, इसका प्रस्ताव दो सप्ताह में बताने का भी निर्देश दिया है. माना जा रहा है कि इस बार बिहार सरकार ईवीएम के जरिए पंचायत चुनाव कराएगी. इसके लिए स्टेट इलेक्शन कमीशन (एसईसी) ने पंचायत राज विभाग को ईवीएम के माध्यम से चुनाव कराने का प्रस्ताव भेज दिया है. 

FIR पर बोले तेजस्वी यादव- दम है तो अरेस्ट करो, नहीं करोगे तो खुद गिरफ्तारी दूंगा

अगर इस बार पंचायती चुनाव ईवीएम से होता है तो चुनाव कराने के लिए लगभग 392 करोड़ रुपए खर्च होंगे. 2016 के पंचायत चुनावों में राज्य सरकार ने 250 करोड़ रुपए खर्च किए थे. माना जा रहा है कि चुनाव में प्रत्याशियों के खर्च करने की सीमा को बढ़ाया जा सकता है. 2016 के पंचायत चुनाव में उम्मीदवारों के खर्च की सीमा को बढ़ाया गया था. 

बाबरी मस्जिद से जुड़े पोस्टर पर बोले डिप्टी CM- अशांति फैलाने वालों पर होगी कार्रवाई

अभी वार्ड सदस्यों और पंच पदों के प्रत्याशियों के चुनाव खर्च की सीमा 20 हजार रुपए है. वहीं पंचायत समिति सदस्य पद के प्रत्याशियों के चुनाव खर्च करने की सीमा 30 हजार रुपए, मुखिया और सरपंच पदों के उम्मीदवारों के चुनाव खर्च की सीमा 40 हजार रुपए है. इसके अलावा जिला पार्षद के पद के प्रत्याशियों के लिए चनाव खर्च की सीमा 1 लाख रुपए है. आपको बता दें कि बिहार में कुल 8,387 ग्राम पंचायतें, 534 पंचायत समितियां, और 38 जिला परिषद हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें