बिहार पंचायत चुनाव: ब्लॉक नहीं जिला मुख्यालयों पर वोटों की गिनती, काउंटिंग की तैयारियों में जुटा प्रशासन

Nawab Ali, Last updated: Sat, 4th Sep 2021, 8:43 PM IST
  • बिहार पंचायत चुनाव 2021 से ठीक पहले इस बार बड़ा बदलाव किया है. जिले के अलग-अलग ब्लॉक में होने वाली पंचायत चुनाव की मतगणना अब जिला मुख्यालयों पर होगी. प्रशासन ने काउंटिंग की तैयारियां शुरू कर दी हैं.
फाइल फोटो.

पटना. चुनाव आयोग और पंचायत राज विभाग ने बिहार पंचायत चुनाव 2021 की मतगणना को लेकर बड़ा बदलाव किया है. इस इलेक्शन में यह पहली बार होगा जब बिहार में पंचायत चुनाव की वोटों की गिनती लोकसभा और विधानसभा चुनाव के तर्ज पर कराई जाएगी. सभी जिलों के ब्लॉकों में विभिन्न पदों के लिए होने वाले इस त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की काउंटिंग अपने अपने जिले के मुख्यालयों में की गई व्यवस्था के अनुसार करायी जाएगी. इसके साथ ही मतगणना के बाद चुनाव नतीजे यानी परिणाम का ऐलान भी डिस्ट्रिक्ट हेडक्वार्टर से किया जाएगा.

कोरोना की वजह से मतगणना केंद्रों पर नहीं जुटेगी भीड़

कोरोना को देखते हुए इस पंचायत चुनाव में मतगणना स्थल पर होने वाली भीड़ को जुटने नहीं दिया जाएगा. चुनाव आयोग और शासन के आदेश पर सभी जिलों में तैयारियां होनी शुरू हो गई हैं. वोटिंग के बाद ईवीएम और बैलेट बॉक्स को सुरक्षित रखने के लिए जिला मुख्यालयों पर स्ट्रांग रूम बनाए जा रहे हैं. स्ट्रांग रूम की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम भी किए जा रहे हैं. प्रखंडवार निर्धारित तिथि को वोटिंग होने के बाद ईवीएम और बैलेट बॉक्स मुख्यालयों पर बन रहे इन्हीं स्ट्रांग रूम में रखने जाएंगे. मतदान के बाद तय तिथि के अनुसार मतगणना केंद्रों पर मतों की गिनती शुरू करा दी जाएगी. मतों की गिनती का काम पूरा होने के बाद चुनाव परिणाम भी इन्हीं केंद्रो से घोषित कर दिया जाएगा.

पार्टी ऑफिस जमीन मामले में नीतीश के बयान से भड़की राजद, जगदानंद का JDU पर हमला

मतगणना केंद्र तैनात रहेगी भारी सुरक्षा

चुनाव आयोग ने बताया कि मतगणना केंद्रो पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं. काउंटिंग के दौरान इन केंद्रों पर बिना पास किसी को प्रवेश नहीं दिया जाएगा. मतगणना के लिए रिटर्निंग आफिसर के साथ प्रशिक्षित कर्मियों को लगाया जाएगा ताकि तय समय पर गिनती को पूरी की जा सके. वहीं पंचायत चुनाव के लिए राज्य चुनाव आयोग के द्वारा निर्धारित चरण के अनुसार प्रखंड मुख्यालय से मतदान सामग्रियों के साथ कर्मियों को रवाना किया जाएगा. विभिन्न पदो से संबंधित सभी चुनाव सामग्री ब्लॉक से उपलब्ध कराई जाएगी. लेकिन मतगणना संबंधी सभी कार्य जिला मुख्यालयों पर होगी.

पटना हाईकोर्ट का आदेश, आपराधिक रिकॉर्ड छुपाकर जामनत लेने वालों को न दी जाए बेल

क्या कहते हैं अधिकारी

अधिकारी कहते हैं कि मतों की गिनती के लिए जिला लेवल पर मतगणना केंद्र बनाए गए हैं. फेज वाइज इसी मतगणना केंद्र में वोटो की गिनती होगी. वोटिंग संबंधी कार्य मतदान सामग्रियों का वितरण और पोलिंग पार्टियों को डिस्पैच करने से सहित मतदान संबंधी सारे कार्य निर्धारित प्रखंड मुख्यालय से संचालित होंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें