पटना

कोरोना: पूरे बिहार में 16 से 31 जुलाई तक फिर लॉकडाउन, इमरजेंसी सेवा छोड़ सब बंद

Smart News Team, Last updated: 14/07/2020 09:10 PM IST
  • बिहार की राजधानी पटना समेत पूरे बिहार में कोरोना मरीजों की लगातार और तेजी से बढ़ रही संख्या को देखते हुए राज्य सरकार ने पूरे राज्य में 16 जुलाई से 31 जुलाई तक दोबारा लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है। इस दौरान इमरजेंसी सेवाओं को छूट रहेगी लेकिन बाकी चीजें बंद रहेंगी। डिटेल गाइडलाइन जारी कर दी गई है।
बिहार में अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी भी कोरोना पॉजिटिव निकले हैं जबकि हाईकोर्ट, डीएम ऑफिस समेत बीजेपी प्रदेश कार्यालय से भी कोरोना के केस मिले हैं।

पटना। बिहार और खास तौर पर राजधानी पटना में तेजी से बढ़ रहे कोरोना मरीजों की संख्या को देखते हुए नीतीश कुमार सरकार ने पूरे राज्य में 16 जुलाई से 31 जुलाई तक दोबारा लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है। राज्य के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा है कि कोरोना पॉजिटिव केसों की बढ़ती संख्या को देखते हुए ये फैसला किया है। राज्य के गृह विभाग ने लॉकडाउन के दौरान किस चीज की इजाजत होगी और क्या बंद रहेगा, इसका गाइडलाइन जारी कर दिया है। बिहार में मंगलवार दोपहर तक 1432 कोरोना केस मिले हैं और राज्य में कोरोना केस की संख्या बढ़कर 18853 हो गई है जिनमें 12364 लोग ठीक भी हुए हैं।

पटना में पहले से ही 10 जुलाई से 16 जुलाई तक लॉकडाउन चल रहा है। राज्य के कुछ और जिलों में भी अलग-अलग अवधि के लॉकडाउन चल रहे हैं। अब बेतहाशा बढ़े कोरोना केस के बाद राज्य मुख्यालय, जिला, अनुमंडल, प्रखंड मुख्यालयों समेत नगर निकायों में 16 से 31 जुलाई तक लॉकडाउन रहेगा। 

इस दौरान ट्रेन और हवाई सेवा जारी रहेगी लेकिन बसों का परिचालन बंद रहेगा। ऑटो, टैक्सी और रिक्शा का परिचालन बंद नहीं होगा। पीआरडी सचिव अनुपम कुमार ने यह जानकारी दी है।

पटना: BJP प्रदेश ऑफिस सील, पार्टी मीटिंग के बाद 24 नेता निकले कोरोना पॉजिटिव

बिहार में 16 जुलाई से 31 जुलाई तक कोरोना लॉकडाउन- क्या खुला, क्या बंद

- आवश्यक सेवाओं को छोड़ बाकी सरकारी गैर सरकारी कार्यालय बंद रहेंगे

- जरूरी सामान वाली दुकानों की खोलने की अनुमति

- परिवहन सेवाओं पर भी बंदिश

सेवाएं जो जारी रहेंगी

- टैक्सी और ऑटो चलेंगे, क्लिनिक, अस्पताल, दवा दुकान व जांच घर खुले रहेंगे

- ई- कॉमर्स, बैंक, बीमा संस्थान, केबल, दूरसंचारव व आईटी सेवाएं को भी छूट राशन, दुध, सब्जी, फल, मीट-मांस और पशुचारा की दुकानें खुली रहेंगी

- होटल-रेस्टूरेंट खुलेंगे, औद्योगिक और निर्माण गतिविधियां पहले की तरह चलेंगी निर्माण कार्य व कृषि से जुड़ी दुकानें भी खुलेंगी

इसकी इजाजत नहीं होगी

- व्यवसायिक, निजी प्रतिष्ठान, शिक्षण संस्थान, धार्मिक स्थल बंद रहेंगे

- सामाजिक, राजनीतिक, खेल-कूद, मनोरंजन, सांस्कृतिक और धार्मिक कार्यक्रमों के आयोजन पर भी रोक, बसों का परिचालन नहीं होगा

बिहार में मंगलवार की दोपहर तक 1432 नए कोरोना मरीज मिले हैं जिसमें पटना के 162 लोग शामिल हैं। पूर्वी चंपारण में 124, बेगूसराय में 114 और नालंदा में 107 कोरोना केस मिले हैं जहां पटना के अलावा 100 से ज्यादा मरीज एक दिन में मिले हैं। राज्य के 38 जिलों से दोपहर तक 1432 नए मरीजों की रिपोर्ट आई है जो शाम होने के बाद बढ़ सकती है जब दोबारा ये डेटा अपडेट होता है।

पटना डीएम ऑफिस में कोरोना ने दी दस्तक,14 स्टॉफ पॉजिटिव मिले, बढ़ सकता है आंकड़ा

बिहार के अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। बिहार बीजेपी दफ्तर से कोरोना के 24 केस मिले हैं जिसमें पार्टी के कई वरिष्ठ नेता भी शामिल हैं. पटना डीएम ऑफिस के 14 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले हैं। हाईकोर्ट की सुरक्षा में तैनात एक डीएसपी समेत 19 लोगों के कोरोना पॉजिटिव निकलने के बाद कोर्ट में काम करने वाले सभी स्टाफ की कोरोना जांच चल रही है।

पटना: झुमका बेचकर दी पति की सुपारी, फोन पर चीख सुनकर प्रेमी से बोली- बधाई हो

अन्य खबरें