NDA का फैसला- पंचायत चुनाव का टिकट लेने वाले उम्मीदवारों का टीकाकरण जरूरी

Smart News Team, Last updated: Sun, 27th Jun 2021, 12:22 AM IST
  • बिहार सरकार ने यह फैसला लिया है कि बिहार में पंचायत चुनाव लड़ने के लिए प्रत्याशियों को कोरोना टीका लेना अनिवार्य होगा. यह जानकारी शनिवार को बिहार बीजेपी की ओर से ट्विटर के माध्यम से दी गई.
NDA का फैसला- पंचायत चुनाव का टिकट लेने वाले उम्मीदवारों का टीकाकरण जरूरी

पटना. बिहार में कोरोना संक्रमण की रफ्तार कम हुई तो बिहार के पंचायत चुनावों की सुगबुगाहट तेज हो गई है. राजनीतिक पार्टियों ने अपने तरीके से चुनावों की तैयारियां शुरू कर दी हैं. चुनावों को लेकर सरकार जरा भी जोखिम नहीं उठाना चाहती इसलिए राज्य सरकार ने यह फैसला लिया है कि बिहार में अब पंचायत चुनाव लड़ने के लिए प्रत्याशियों को कोरोना टीका लेना अनिवार्य होगा. इससे गांवों के लोगों में टीकाकरण को लेकर जागरूकता भी फैलेगी.

बता दें की यह जानकारी शनिवार को बिहार बीजेपी की ओर से एक ट्वीट कर के दी गई. जिसमें लिखा गया कि बिहार में अब पंचायत चुनाव लड़ने के लिए प्रत्याशियों को कोरोना टीका लेना होगा अनिवार्य. गांवों में टीकाकरण के प्रति जागरूकता लाने के लिए एनडीए सरकार ने लिया है अहम फैसला. बता दें कि पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी ने बताया था कि आयोग से आग्रह किया गया है कि कोरोना टीका लगाने वाले को ही चुनाव लड़ने की इजाजत दें.

नीतीश नहीं, BJP के हर कदम पर मैं रहा साथ, अब भाजपा तय करे, किसे करेगी सपोर्ट: चिराग

बता दें कि राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा अक्टूबर नवंबर में चुनाव कराने की संभावनाएं जताई जा रही हैं. बूथों पर पुनर्गठन शुरू हो गया है साथ ही आयोग ईवीएम की व्यवस्था करने में भी जुट गया है. बताया जा रहा है कि निर्वाचित प्रतिनिधियों को ही समिति का अध्यक्ष बनाया गया है. राज्य चुनाव आयोग ने बाढ़ का पानी कम होने के बाद चिन्हित मतदान केंद्रों में भौतिक सत्यापन की प्रक्रिया शुरू करने का फैसला लिया है. बता दें कि बिहार पंचायत चुनावों में कुल 8386 सरपंच और मुखिया के पद के लिए चुनाव होंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें