बिहार से दिल्ली-UP जाने वाली ट्रेनों पर बाढ़ का असर, कई रूटों में बदलाव

Smart News Team, Last updated: Tue, 13th Jul 2021, 9:24 AM IST
बिहार के पूर्व मध्य रेलवे के सगौली-मझौलिया और समस्तीपुर-मुक्तापुर स्टेशनों के बीच बारिश के पानी के बढ़ते स्तर के चलते सगौली-नरकटियागंज और समस्तीपुर-दरभंगा रेल खंड पर 12 और 13 जुलाई को ट्रेनों का यातायात बाधित रहेगा. वहीं कई ट्रेन परिवर्तित मार्ग से चलेंगी.
बाढ़ की वजह से बिहार से UP-दिल्ली जाने वाली ट्रेनों का रूट चेंज

पटना. राज्य में बाढ़ के कारण ट्रेन सेवाएं प्रभावित हो रही हैं. कई ट्रेनों को कैंसिल कर दिया गया है, तो वहीं कई ट्रेनों का रूट बदल कर उन्हे परिवर्तित मार्ग पर चलाया जा रहा है. ऐसे ही बिहार के पूर्व मध्य रेलवे के सगौली-मझौलिया और समस्तीपुर-मुक्तापुर स्टेशनों के बीच बारिश के पानी के बढ़ते स्तर को ध्यान में रखते हुए सगौली-नरकटियागंज और समस्तीपुर-दरभंगा रेल खंड पर 12 और 13 जुलाई को ट्रेनों का यातायात बाधित रहेगा.

जो लोग इस दौरान बिहार ट्रेन से यातायात करने का सोच रहे हैं उनके लिए बेहतर होगा कि घर से निकलने से पहले वे जानकारी ले लें कि उनकी ट्रेन का संचालन हो भी रहा है या नहीं. बता दें कि बाढ़ के खतरे के चलते सप्तक्रान्ति एक्सप्रेस समेत कई अन्य स्पेशल ट्रेनों का निरस्तीकरण, मार्ग परिवर्तन, शार्ट टर्मिनेशन व शार्ट ओरिजिनेशन भी किया जाएगा. मालूम हो कि 12 और 13 जुलाई को जयनगर से अमृतसर जाने वाली ट्रेन नंबर 04651 जयनगर-अमृतसर मुजफ्फरपुर से चलाई जाएगी ऐसे ही जयनगर से अमृतसर जाने वाली दूसरी ट्रेन नंबर 04673 शहीद स्पेशल समस्तीपुर से और जयनगर से अमृतसर जाने वाली तीसरी ट्रेन नंबर 04649 सरयू-यमुना समस्तीपुर से चलाई जाएगी.

अच्छी खबर: नए NH-139W बनने पर पटना से बेतिया जाना आसान, 5 चरण में होगा निर्माण

 

 

परिवर्तित मार्ग से चलाई जाने वाली ट्रेनों की सूची

-मुजफ्फरपुर से आनन्द विहार जाने वाली ट्रेन नंबर 02557 छपरा-गोरखपुर के रास्ते चलेगी।

--बरौनी से बांद्रा जाने वाली ट्रेन नंबर 09040 छपरा-गोरखपुर के रास्ते चलेगी।

-मुजफ्फरपुर से पोरबंदर जाने वाली ट्रेन नंबर 09270 छपरा-गोरखपुर के रास्ते चलेगी।

--भागलपुर से गांधीधाम जाने वाली ट्रेन नंबर 09452 छपरा-गोरखपुर के रास्ते चलेगी।

-दरभंगा से नई दिल्ली जाने वाली ट्रेन नंबर 02569 सिकटा-नरकटियागंज-गोरखपुर के रास्ते चलेगी।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें