कोरोना लॉकडाउन में बदली पटना की आबो हवा, वायु प्रदूषण में ग्रीन जोन हुई राजधानी

Smart News Team, Last updated: Sun, 14th Jun 2020, 1:38 PM IST
  • राजधानी पटना का वायु प्रदूषण स्तर ग्रीन जोन में पहुंच गया है। वहीं मुजफ्फरपुर का 76, हाजीपुर का 56 और गया का सूचकांक 40 हो गया है।
अब बदल गई राजधानी पटना की आबो हवा

पटना. कोरोना काल में राजधानी के लिए सबसे अच्छी खबर ये है कि यहां का वायु प्रदूषण का स्तर अब ग्रीन जोन में पहुंच गया। यानी अब पटनावासी शुद्ध हवा की सांस ले रहे हैं। राष्ट्रीय वायु गुणवत्ता सूचकांक के अनुसार, राजधानी पटना का सूचकांक 61 हो गया है। पटना का वायु प्रदूषण खराब श्रेणी से ग्रीन जोन में पहुंचा है।

गौरतलब है कि राजधानी पटना के साथ मुजफ्फरपुर का 76 और गया का सूचकांक 40 हो गया है। अगर तीनों शहर की तुलना करे तो गया जिले की आबो हवा राजधानी और मुजफ्फरपुर से भी बेहतर स्थिति में है। वहीं, सूबे के हाजीपुर जिले में भी हवा की गुणवत्ता में काफी सुधार हुआ। हाजीपुर का सूचकांक 56 हो गया है। मालूम हो कि अगर वायु प्रदूषण का सूचकांक 100 के पार रहेगा तो वह श्रेणी में माना जाएगा।

बता दें कि पटना शहर में बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद ने छह प्रमुख स्थलों पर ऑटोमेटिक एयर क्वालिटी मॉनिटरिंग स्टेशन लगाए थे जिसके आंकड़ें बता रहे हैं कि दानापुर से लेकर पटना सिटी चौक तक वायु गुणवत्ता सूचकांक न्यूनतम 44 से लेकर अधिकतम 64 है। जानकारों की मानें तो इसकी एक वजह बारिश और तापमान की अधिकता भी हो सकती है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें