सर्राफा बाजार 3 नवंबर का भाव: पटना, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, पूर्णिया, गया में सोना-चांदी महंगा

Somya Sri, Last updated: Wed, 3rd Nov 2021, 6:10 AM IST
  • Bihar 3 November Gold Silver Price: बिहार के सर्राफा बाजार में आज सोने और चांदी की कीमत में इजाफा हुआ है. बिहार में 24 कैरेट सोना 110 रुपये प्रति 10 ग्राम महंगा हुआ है. बिहार में 22 कैरेट सोना 100 रुपये प्रति 10 ग्राम महंगा हुआ है. जबकि बिहार में चांदी के दाम में 200 रुपये प्रति किलोग्राम का इजाफा हुआ है.
बिहार के पटना, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, पूर्णिया, गया में सोने चांदी का रेट. (फाइल फोटो)

पटना. बिहार के सर्राफा बाजार में आज 3 नवंबर को सोने और चांदी के दाम में इजाफा हुआ है. बिहार में 24 कैरेट सोना 110 रुपये प्रति 10 ग्राम महंगा हुआ है. बिहार में 22 कैरेट सोना 100 रुपये प्रति 10 ग्राम महंगा हुआ है. जब बिहार में चांदी के दाम में 200 रुपये प्रति किलोग्राम का इजाफा हुआ है. जबकि मंगलवार को 24 कैरेट सोना और 22 कैरेट गोल्ड के दाम स्थिर थे. लेकिन चांदी के दाम में 200 रुपये प्रति किलोग्राम की गिरावट दर्ज हुई थी.

बिहार की राजधानी पटना में 24 कैरेट सोना 48,880 रुपए प्रति 10 ग्राम और 22 कैरेट सोना 46,550 प्रति 10 ग्राम पर बिक रहा है. जबकि चांदी के दाम 68,900 प्रति किलो है. भागलपुर में 24 कैरेट सोना 48,880 और 22 कैरेट सोना 46,550 प्रति 10 ग्राम और चांदी 68,900 रुपए प्रति किलोग्राम पर बिक रही हैं.

पटना जू में धूप का मजा लेते नाग-नागिन करने लगे रोमांस, वीडियो वायरल

पूणिया में 24 कैरेट सोना 48,880 प्रति 10 ग्राम पर है, तो वहीं 22 कैरेट सोना 46,550 प्रति 10 ग्राम और चांदी 68,900 प्रति किलोग्राम पर है. गया में 24 कैरेट सोना 48,880 रुपए और 22 कैरेट सोना 46,550 प्रति 10 ग्राम और चांदी 68,900 प्रति किलोग्राम पर बिक रही है. मुजफ्फरपुर में 24 कैरेट सोना 48,880 और 22 कैरेट सोना 46,550 प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया है. राज्य में चांदी 68,900 प्रति किलोग्राम पर बिक रही है.

सर्राफा बाजार में सोनो स्थिर होने से लोगों को कुछ राहत मिली है. दाम स्थिर होने से लोग बाजार में खरीदारी की योजनाएं बना रहे है. खास बात यह भी है कि अंगले दो दिनों बाद दीवाली का त्योहार शुरू हो जाएगा. दीवाली में लोग सोना चांदी खूब खरीदना पसंद करते हैं. इसे शुभ माना जाता है. ऐसे में दाम के स्थिर बने रहने से लोगों को थोड़ी आफियत है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें