सुशांत के पिता का खुलासा- बेटे को था खतरा, फरवरी में मुंबई पुलिस से मांगी थी मदद

Smart News Team, Last updated: 03/08/2020 07:47 PM IST
  • सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने एक वीडियो जारी करते हुए कहा है कि उन्होंने फरवरी में भी मुंबई पुलिस से मदद मांगी थी और उन्हें जानकारी दी थी कि उनके बेटे की जान को खतरा है लेकिन मुंबई पुलिस ने इसका संज्ञान नहीं लिया.
सुशांत के पिता का खुलासा- बेटे को था खतरा, फरवरी में मुंबई पुलिस से मांगी थी मदद

सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या केस उलझता ही जा रहा है. इस केस में अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती के साथ ही मुंबई पुलिस पर भी कई तरह के आरोप लग रहे हैं. पहले सुशांत के पिता केके सिंह ने कहा था कि मुंबई पुलिस ने उनकी एफआईआर नहीं लिखी थी. अब उन्होंने एक वीडियो जारी करके कहा है कि मुंबई पुलिस को उन्होंने फरवरी में भी बताया था कि उनके बेटे की जान को खतरा है.

उन्होंने वीडियो जारी किया जिसमें कहा, 25 फरवरी को मैंने बांद्रा पुलिस को इन्फॉर्म किया था कि सुशांत की जान खतरे में है. उसकी मौत 14 जून को हुई. मैंने पुलिस से कहा कि उन लोगों से पूछताछ करें जिनके नाम मैंने 25 फरवरी को कंप्लेंट की थी. बेटे की मौत के 40 दिन बाद भी इसपर कोई एक्शन नहीं लिया गया, इसलिए मैंने पटना में एफआईआर की.

गौरतलब है कि इससे पहले भी सुशांत के पिता केके सिंह के वकील ने कहा था कि सुशांत के पिता ने पटना में एफआईआर दर्ज करवाई है. उन्होंने कहा था कि सुशांत के पिता ने पहले मुंबई पुलिस के पास एफआईआर दर्ज करवानी चाही थी लेकिन मुंबई पुलिस ने रिया के नाम पर एफआईआर दर्ज करने की बजाय कहा था कि एफआईआर में बड़े फिल्म निर्माताओं के नाम डाले जाएं. सुशांत के पिता ने वहां एफआईआर नहीं करवाई क्योंकि इससे केस अलग दिशा में चला जाता.

सुशांत राजपूत पटना FIR केस: कानूनी एक्सपर्ट की नजर में बिहार सही या मुंबई पुलिस

वहीं बिहार पुलिस और मुंबई पुलिस के बीच भी तनातनी है. मुंबई पुलिस पर बिहार पुलिस का जांच में सहयोग ना करने का आरोप है. इस कारण पटना एसपी विनय तिवारी को मुंबई भेजा गया लेकिन उन्हें जबरन क्वारंटाइन कर दिया गया.

पटना SP को क्वारंटीन करने पर तेजस्वी बोले- नीतीश सरकार ने कराई पुलिस की बेइज्जती

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें