महिला के साथ रंगरेलियां मना रहा था ASI, ग्रामीणों ने आपत्तिजनक हालत में पकड़ा, सस्पेंड

Smart News Team, Last updated: Thu, 12th Nov 2020, 9:01 PM IST
  • कटिहार में एएसआई को महिला के साथ पाए जाने पर सस्पेंड किया गया. एसआई की इस हरकत से ग्रामीणों में आक्रोश है. ग्रामीणों का आरोप है कि अस्सिटेंट सब इंस्पेक्टर ने जबरन घर में घुसकर महिला के साथ ये हरकत की.
महिला के साथ रंगरेलियां मना रहा था ASI, ग्रामीणों ने आपत्तिजनक हालत में पकड़ा, सस्पेंड

पटना. कटिहार के एक गांव में महिला के साथ एएसआई आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा गया. जिससे ग्रामीणों में गुस्सा है. गांव वालों ने अस्सिटेंट सब इंस्पेक्टर की गिरफ्तारी की मांग की है. जिसके बाद एएसआई को सस्पेंड कर दिया गया है. एएसआई पर आरोप है कि उसने जबरन घर में घुसकर महिला के साथ जबरदस्ती की.

कटिहार के एसपी विकास कुमार ने कहा कि बरारी पुलिस स्टेशन में तैनात एएसआई को उसकी शर्मनाक हरकत के लिए निलंबित कर दिया गया है और आगे भी उसके खिलाफ विभागीय कार्यवाही हो सकती है. वहीं यूपी पुलिस हेडक्वार्टर के अधिकारी ने कहा कि इस मामले की जांच की जाएगी. अगर एएसआई दोषी पाया गया तो कड़ी कार्रवाई होगी.

जुआ खेलने के विवाद में चली गोली से एक युवक की मौत, दो को गुस्साई भीड़ ने मार डाला

ये मामला बरारी थाने के तिरसी टोला का है. बुधवार को एएसआई बालेश्वर प्रसाद देर रात साढ़े 11 बजे एक घर में घुसा. जिसके बाद कुछ देर बाद गांव वाले भी घर में घुसे. अस्सिटेंट सब इंस्पेक्टर बालेश्वर को कच्छा-बनियान में देखकर सब हैरान रह गए. थोड़ी ही देर में भीड़ जुट गई. सब इंस्पेक्टर की इस हरकत से ग्रामीण रोष में आ गए और एसएसआई को पीटना शुरू कर दिया.

जनता के फैसले में महागठबंधन जीता, चुनाव आयोग के नतीजे में नीतीश का NDA- तेजस्वी

लोगों ने अस्सिटेंट सब इंस्पेक्टर के हाथ-पैर बांध दिए. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और एएसआई बालेश्वर को ग्रामीणों के चंगुल से छुड़ाया. एएसआई की गिरफ्तारी की मांग करते हुए सैकड़ों ग्रामीण वहीं धरने पर बैठ गए. ग्रामीणों का आरोप है कि अस्सिटेंट सब इंस्पेक्टर जबरन घर के अंदर घुसा और महिला के साथ शारीरिक संबंध बनाए. महिला के पति ने पुलिस को बताया कि एएसआई भूमि विवाद मामले में विरोधी पक्ष से मिला हुआ है. अस्सिटेंट सब इंस्पेक्टर ने हमें झूठे मुकदमें में फंसाने की धमकी दी और हाथ-पैर बांधकर दूसरे कमरे में बंद कर दिया.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें