RLSP प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने बिना परमिशन पटना में निकाला जुलूस, केस दर्ज

Smart News Team, Last updated: Sun, 13th Sep 2020, 8:43 PM IST
  • रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा को बिना अनुमति जुलूस निकालना भारी पड़ गया. पुलिस ने 10 नामजद समेत कई सौ लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है.
उपेंद्र कुशवाहा ने बिना परमिशन पटना में निकाला जुलूस, केस दर्ज

पटना. रालोसपा प्रमुख उपेद्र कुशवाहा को राजधानी पटना में में जुलूस निकालना भारी पड़ गया. बिना अनुमति के जुलूस निकालने पर गांधी मैदान थाने की पुलिस ने दस नामजद और 400 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है. जुलूस निकालने से पहले उपेंद्र कुशवाहा ने कहा था कि सरकारी स्कूलों की बदहाली की वजह से शिक्षा गरीबों तक नहीं पहुंच पा रही है. मैंने जो सुधार के सुझाव सरकार को भेजे उन्हें रद्दी की टोकरी में फेंक दिया गया.

रालोसपा प्रमुख ने आगे कहा कि तीन साल पहले दिए उनके सुझाव पर अभी तक कोई विचार नहीं किया गया है. नीतीश सरकार नहीं चाहती है कि शिक्षा की हालात सुधरे और गरीब बच्चे पढ़ पाएं. उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि इसी वजह से मजबूर होकर सड़क पर उतरे हैं.

बेटे का हिंदू नाम रखने पर उबल पड़ा आफताब, कलह से तंग आकर पूजा ने दे दी जान

मालूम हो कि रविवार को उपेंद्र कुशवाहा अपनी पार्टी के शिक्षा सुधार सप्ताह के अंतिम दिन 'शिक्षा सुधार मार्च' को संबोधित कर रहे थे. इससे पहले उन्होंने गांधी मैदन के गेट पर पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह की तस्वीर पर माल्यापर्ण किया. सभी कार्यकर्ताओं ने एक मिनट का मौन रखकर रघुवंश बाबू को श्रद्धांजलि दी फिर मौन मार्च शुरू किया गया.

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि रघुवंश बाबू के निधन की वजह से बिना नारा लगाये यात्रा बुद्धा स्मृति पार्क तक जाएगी. हालांकि, यात्रा शुरू होते ही जेपी गोलम्बर से पुलिस ने मार्च को आगे नहीं बढ़ने दिया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें