सालों से बंद SC/ST स्कॉलरशिप देंगे CM नीतीश कुमार, फिर शुरू करने को दिया 1 महीना

Smart News Team, Last updated: Thu, 12th Aug 2021, 7:56 AM IST
  • तीन सालों से शेड्यूल़्ड कास्ट और शेड्यूल्ड ट्राइब छात्रों को मिलने वाली पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप बंद पड़ी थी जिसे दोबारा शुरू किया जा रहा है. मीडिया में इस पर चर्चा होने के बाद ही बिहार सीएम नीतीश कुमार ने छात्रों के हित के लिए फैसला लिया है.
बिहार की नीतीश कुमार सरकार ने एससी एसटी स्कॉलरशिप दोबारा शुरू करने का फैसला लिया है. इसके लिए एक महीने का समय तय किया गया है. 

पटना. बिहार में एजुकेशन सिस्टम किस हिसाब से काम कर रहा है इसका ताजा उदाहरण हाल ही में सामने आया है. तीन सालों से शेड्यूल्ड कास्ट और शेड्यूल्ड ट्राइब छात्रों को मिलने वाली पोस्ट-मैट्रिक बंद पड़ी है. ये बात जैसे ही मीडिया में आग की तरफ फैली तो सीएम नीतीश कुमार ने इसमें हस्तक्षेप किया और इसे दोबारा शुरू करने के निर्देश दिए. सीएम नीतीश कुमार ने अपनी ओर से राज्य के शिक्षा विभाग को शेड्यूल्ड कास्ट और शेड्यूलड ट्राइब जनजाति योजना के तहत पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप को जल्द से जल्द फिर से शुरू करने का निर्देश दिया है. इसके लिए उन्होंने एक महीने का समय दिया.

सरकार का इस मामले में ये कहना है कि पिछले तीन सालों से केंद्र की प्रमुख कल्याण योजना के लिए किसी भी तरह का आवेदन नहीं मिला है. इन सबके आधिकारी एल्पीकेशन ना मिलने का कारण नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल में तकनीकी खराबी बताया गया है. दूसरे राज्यों में सफलता के साथ लागू की गई योजना केंद्र-राज्य निधि हिस्सेदारी के 75 प्रतिशत पर काम किया करती है. बिहार सरकार पर कई छात्रों ने आरोप लगाया है कि कक्षा 12वीं से पोसटग्रैजुएट लेवल की पढ़ाई, प्रोफेशनल और टेकनिकल कोर्स के लिए फीस पर 2 हजार से 90 हजार की सीमा लगाकर योजना का पूरा लाभ उठाने से रोका जा रहा है.

बिहार: इंजीनियरिंग कॉलेजों में बदला नियम, सीट फुल नहीं तो फिर प्रवेश परीक्षा

इस स्कीम के चलते शिक्षा, प्रोफेशनल और तकनीकी कोर्स, इंजीनियरिंग, मेडिकल मैनेजमेंट और पोस्ट ग्रेजुएट के कोर्स के लिए आसानी से स्कॉलरशिप मिल जाती है. इस पूरे मामले में बिहार के अतिरिक्त मुख्य सचिव संजय कुमार ने बताया कि हमने राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र, दिल्ली को लिखा था कि राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल 2.0 काम नहीं कर रहा है. कई राज्यों की तरह जिनका अपना पोर्टल है, हमने अपने पोर्टल के लिए अनुरोध किया है. हम जल्द ही पोर्टल विकसित करने और 2019-20 और 2020-21 के लिए छात्रवृत्ति योजना के लिए एक साथ आवेदन आमंत्रित करना शुरू करने की उम्मीद करते हैं.

CBSE ने 10वीं-12वीं कंपार्टमेंट परीक्षा का शेड्यूल किया जारी, यहां देखें डेटशीट

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें