बिहार शिक्षक भर्ती: हाई स्कूल टीचर नहीं बने तो प्रारंभिक में मिलेगा मौका, जानें कब होगी काउंसलिंग

Smart News Team, Last updated: Fri, 23rd Jul 2021, 7:56 AM IST
  • बिहार में 94000 हजार प्रारंभिक शिक्षकों के बहाली की तैयारी चल रही है. इसके लिए 9 अगस्त के बाद काउंसिलिंग की तिथि की घोषणा की जा सकती है. सरकार ने शिक्षक भर्ती में ढाई महीने में पूरा करने का वादा किया है.
बिहार शिक्षक भर्ती हाई स्कूल टीचर नहीं बने तो प्राइमरी में मिलेगा मौका.( सांकेतिक फोटो )

Bihar Teacher Recruitment: बिहार सरकार ने छठे चरण की 30020 पदों पर हाईस्कूल और प्लस टू शिक्षक भर्ती में काउंसलिंग का शेड्यूल 8 जुलाई 2021 से 13 अगस्त 2021 तक चल रहा है. सरकार छठे चरण की काउंसलिंग पूरी होने के बाद हाई स्कूल में शिक्षक बनने से रह गये अभ्यर्थियों को प्राइमरी में शिक्षक बनने का मौका दे सकती है. इसके लिए 2 अगस्त को घोषित नियोजन कार्यक्रम में बदलाव किया जा सकता है. उम्मीद लगाई जा रही है कि 9 अगस्त के बाद प्रारम्भिक की काउंसिलिंग की तिथि की घोषणा की जा सकती है.

प्रारंभिक शिक्षकों के 94 हजार पदों पर बहाली को लेकर 5 जुलाई से नियोजन कार्यक्रम के शुरुआत होने की उम्मीद थी लेकिन अभी इस संदर्भ में कोई सूचना जारी नहीं हुई थी. अब मिल रही सूचना के अनुसार 9 अगस्त के प्रारम्भिक की काउंसिलिंग तिथि का ऐलान किया जा सकता है. उम्मीद जताई जा रही है कि शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी प्राइमरी शिक्षक भर्ती को जल्द ही कोई जानकारी दे सकते है. प्रारंभिक शिक्षकों के नियोजन को लेकर विभाग ने दो नियोजन शिड्यूल जारी किये हैं. दिव्यांगों के द्वारा आवेदन किये गए जिलो में अलग तिथि जारी हो सकती है.

बिहार: हाईस्कूल और प्लस टू शिक्षकों की भर्ती के लिए शेड्यूल जल्द होगा जारी

बिहार में 94 हजार प्रारभिंक शिक्षकों के लिए 15 जून से आवेदन शुरु हुई थे. राज्य सरकार ने ढाई महीने में नियोजन प्रकिया को पूरा करने आदेश दिया था. पटना हाईकोर्ट के बाद राष्ट्रीय मुक्त विद्यालय शिक्षा संस्थान ( एनआइओएस ) का 18 महीने का डीएलएड कोर्स करने वाले अभ्यर्थियों को शिक्षक बनने का मौका मिलेगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें