ट्रक एसोसिएशन की हड़ताल का दूसरा दिन, हो सकती है खाने के सामान की किल्लत

Smart News Team, Last updated: 15/09/2020 07:59 AM IST
  • बिहार में ट्रक एसोसिएशन की बेमियादी हड़ताल के दूसरे दिन भी जारी रहने से प्रदेश में खाद्य पदार्थ की किल्लत का सामना करना पड़ सकता है. हालांकि एसोसिएशन ये भी कहा कि जरूरी सेवाओं जैसे दूध-दवा और एमरजेंसी सेवा को बहाल रखा जाएगा. 
बिहार ट्रक हड़ताल दूसरे दिन भी जारी.

पटना. बिहार में ट्रक एसोसिएशन ने बेमियादी हड़ताल घोषित कर दी है. ट्रकों की दूसरे दिन भी हड़ताल जारी रहने से खाद्य पदार्थ की किल्लत का सामना करना सकता है. हालांकि ट्रक एसोसिएशन ने हड़ताल में जरूरी सेवाओं को हड़ताल से बाहर रखा गया है. जिसमें दूध, दवा और एमरजेंसी को शामिल किया गया है. वहीं चक्का जाम को देखते हुए प्रसाशन ने कई स्तर पर तैयारियां की हैं और किल्लत कहकर कालाबाजारी करने वालों पर भी कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं.

ट्रक एसोसिएशन ने 20 मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल घोषित की है जिसमें टैक्स माफ करने के लिए कहा गया है. लॉकडाउन में ट्रक मालिकों की स्थित दयनीय हो गई है. वहीं कई कारणों से मालिकों को परेशान किया जा रहा है. एसोसिशन की डिमांड है कि 01 मार्च से 2020 से 31 मार्च 2021 तक रोड टैक्स को पूरी तरह से माफ किया जाए. इसी के साथ फिटनेस, परमिट, बीमा और लाइसेंस सहित अन्य कागजों की वैधता 2021 तक बढ़ाई जाए.  

पटना: JDU-LJP के मतभेद पहुंचे प्रधानमंत्री तक, चिराग पासवान ने पीएम को लिखा पत्र

ट्रक मालिकों का कहना है कि आर्थिक हालत को देखते हुए बिहार सरकार डीजल पर लगे उपकर टैक्स को बिना देरी किए हुए वापस ले. वहीं गैरकानूनी ढंग से, सरकारी बैंक, प्राइवेट फाइनेंस कंपनी के गुंडों द्वारा सरेआम रोड पर किस्त वसूलने के नाम पर जो गुंडागर्दी है उसपर रोक लगाई जाए. 

बिक्रम विधानसभा सीट पर किसका लहराएगा परचम, 1967 के बाद कांग्रेस 2015 में जीती

एसोसिएशन के अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह ने बताया कि हड़ताल सोमवार सुबह छह बजे से ही हड़ताल जारी हो गई थी. वहीं उन्होनें हड़ताल को सफल बताते हुए कहा कि प्रदेश के 99 प्रतिशत ट्रक सड़कों पर खड़े हैं.  

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें