बिहार अनलॉक: 16 अगस्त से खुलेंगे पहली से 8वीं के स्कूल, सिनेमा हॉल में 50% की परमिशन

Smart News Team, Last updated: Wed, 4th Aug 2021, 9:54 PM IST
  • बिहार सरकार ने अनलॉक 5 की गाइडलाइंस जारी कर दी हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को आपदा प्रबंधन समूह की बैठक बुलाई थी जिसमें पहली से आठवीं के स्कूल 16 अगस्त से खोलने का फैसला लिया गया है. 7 अगस्त से नौवीं-10वीं, कोचिंग इंस्टीट्यूट समेत सभी शैक्षिक संस्थानों को खोलने का फैसला किया गया है.
बिहार अनलॉक 5 को लेकर गाइडलाइंस जारी, 16 अगस्त से खुलेंगे पहली से 8वीं के स्कूल

पटना. बिहार अनलॉक 5 की गाइडलाइंस बुधवार की शाम जारी कर दी गई हैं. नीतीश सरकार ने बिहार में पहली से आठवीं के स्कूल खोलने का फैसला कर लिया है. 16 अगस्त से स्कूलों में पहली से आठवीं के छात्रों की पढ़ाई कराई जाएगी. कक्षा नौवीं-दसवीं की पढ़ाई सात अगस्त से ऑफलाइन मोड यानी स्कूल में होगी. कोचिंग संस्थान, कॉलेज समेत सभी शिक्षण संस्थानों को भी कोविड प्रोटोकॉल के साथ 7 अगस्त से खोलने की अनुमति दी गई है. इसी के साथ नीतीश सरकार ने अभी धार्मिक स्थलों को बंद रखने का फैसला किया है. बिहार में मॉल हफ्ते में सिर्फ तीन दिन ही खोल जा सकेंगे. सिनेमा हॉल हर दिन खोले जा सकेंगे लेकिन सिर्फ 50 फीसदी क्षमता के साथ खोलने की परमिशन मिली है. कोरोना की तीसरी लहर के अनुमान को देखते हुए अभी सार्वजनिक स्थलों पर सरकारी और निजी कार्यक्रमों पर सरकार ने रोक जारी रखी है.  

आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में अपर मुख्य सचिव चैतन्य प्रसाद ने बताया कि  सिनेमा हॉल को शाम 7 बजे तक 50 फीसदी क्षमता के साथ खोला जा सकेगा. अनलॉक 4 की गाइडलाइंस 6 अगस्त तक जारी रहेंगी. नई गाइडलाइंस 7 अगस्त से लेकर 25 अगस्त तक लागू रहेंगी. 

JDU नेता उपेंद्र कुशवाहा का तेजस्वी यादव पर तंज, कहा- चिराग पासवान जैसा होगा हाल

दुकानदारों और व्यपारियों को अनलॉक 5 में बड़ी राहत मिली है. नीतीश सरकार ने एक दिन छोड़कर दुकानें बंद रखने की पाबंदी को वापस ले लिया है. बिहार में अब दुकानें साप्ताहिक बंदी के अलावा सभी दिन खोली जा सकेंगी. दुकानें शाम 7 बजे ही खोलने की परमिशन दी गई है. इसी के साथ बिहार सरकार ने अनलॉक 5 की गाइडलाइंस में शॉपिंग मॉल, सिनेमा हॉल में काम करने वाले स्टॉफ को वैक्सीनेशन जरूरी किया गया है. वैक्सीन लगे स्टॉफ की लिस्ट मालिकों को अपने लोकल पुलिस स्टेशन में देनी होगी. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें