Bihar: गंगा नदी का जल स्तर खतरे के निशान से ऊपर,CM नीतीश ने दिए अर्लट के निर्देश

Smart News Team, Last updated: Thu, 12th Aug 2021, 10:10 AM IST
  • गंगा नदी का जल स्तर खतरे के निशान से उपर आ गया है. सीएम ने गंगा नदी के आसपास के जिलों के डीएम को अर्लट रहने का निर्देश दिया है.
गंगा नदी का जल स्तर खतरे के निशान से उपर

पटना: लगातार बारिश के कारण बिहार में बाढ़ की स्थिति बनी हुई है. गंगा नदी के किनारे सटे 12 जिलों को अलर्ट मोड पर रखा गया है. सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि प्रभावित लोगों से संपर्क बनाए रखें और पूरी संवेदनशीलता के साथ सभी की सहायता करें. गंगा का जल स्तर बढ़ रहा है और इसमें और भी ज्यादा बढ़ोतरी होने की संभावना है. इसलिए साल 2016 में गंगा नदी के किनारे वाले जिलों में बाढ़ के पानी से जो असर हुआ था उसे ध्यान में रखते हुए इस बार पूरी तैयारी रखे.

साल 2016 में जह गंगा नदी के जलस्तर में काफी वद्धि हुई थी. उस दौरान 12 जिलों में बाढ़ से बचाव को लेकर पूरी तैयारी की गई थी. सीएम ने बुधवार को पटना और आसपास के कई इलाकों में जकर गंगा के जलस्तर और अलग-अलग घाटों की स्थिति का जायजा लिया. इसके बाद जिलों के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वक्षेण किया. इसके बाद एक अणे मार्ग में जल संसाधन और आपदा प्रबंधन और संबंधित 12 जिलों के डीएम के साथ समीक्षा बैठक की. बैठक में मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि जल संसाधन विभाग के अधिकारी लगातार तटबंधों एवं नदियों के जलस्तर की निगरानी करते रहे.

लखनऊ में तेंदुआ, सुशांत गोल्फ सिटी इलाके में बिग कैट दिखने से दहशत

पटना में गंगा नदी के जलस्तर में पिछले 24 घंटों में लगभग 30 सेंटीमीटर की बढोतरी होने के बाद दियारा क्षेत्र में तबाही शुरू हो गई. दो दिनों तक ऐसी ही तेजी बनी रही तो कई घाटों पर गंगा सर्वाधिक स्तर को पार जाएगी. इसे देखते हुए प्रशासन ने मनेर से मोकामा तक 14 दियारा क्षेत्रों को बाढ़ग्रस्त घोषित कर दिया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें