पराली की समस्या से निजात : बिहार के 11 जिले के कृषि विज्ञान केंद्रों में लगी बायोचार कंपोस्ट प्लांट

Uttam Kumar, Last updated: Fri, 7th Jan 2022, 11:59 AM IST
  • बिहार के किसानों को जल्द ही पारली जलाने से छुटकारा मिल जाएगा. बिहार सरकार पंजाब की तर्ज पर 11 जिले के कृषि विज्ञान केंद्रों में बायोचार कंपोस्ट प्लांट लगा रही है. बायोचार कंपोस्ट प्लांट में 380 डिग्री सेंटिग्रेड के तापमान पर जलाया जाएगा. जलाने के बाद जो कार्बन अवशेष बचेगा वहीं बायोचार होगा.
(फाइल फोटो)

पटना. बिहार के किसानों को अब पराली की समस्या से जल्द ही निजात मिल जाएगा. दरअसल बिहार सरकार ने मिट्टी की सेहत को दुरुस्त करने की पंजाबी तकनीकी बायोचार का इस्तमाल शुरू करने जा रही है. कृषि विभाग की तरफ से पराली का उपयोग कर बायोचार कंपोस्ट बनाया जाएगा. इसके लिए राज्य के 11 जिले के कृषि विज्ञान केंद्रों में बायोचार कंपोस्ट प्लांट की स्थापना की गई है.इन सभी प्लांट में जल्द ही बायोचार का निर्माण शुरू कर दिया जाएगा.  

इस योजना के तहत बायोचार कंपोस्ट का निर्माण पहले पटना नालंदा भोजपुर रोहतास कैमूर बक्सर औरंगाबाद गया बांका और पश्चिम चंपारण जिलों के कृषि विज्ञान केंद्रों में शुरू होगा. फिर अन्य जिलों में भी इसकी स्थापना की जाएगी. फिलहाल 11 जिलों में प्लांट का स्थापना किया जा चुका है. ट्रायल रन पूरा हो गया पुआल का कलेक्शन भी शुरू हो गया है. लेकिन कोरोना के कारण लॉन्चिंग टाली गई है बावजूद इसका प्रयोग इस रवी सत्र में शुरू हो जाएगा. 

पटना: नाइट कर्फ्यू का उलंघन करना पड़ा भारी, पहले दिन 13 दुकानें सील

क्या है बायोचार कंपोस्ट

किसानों से पराली जमा कर उसे बायोचार कंपोस्ट प्लांट में 380 डिग्री सेंटिग्रेड के तापमान पर जलाया जाएगा. जलाने के बाद जो कार्बन अवशेष बचेगा वहीं बायोचार होगा. इसे मिट्टी में मिलाकर कार्बन की कमी को दूर किया जा सकेगा. पराली का नाइट्रोजन, फास्फोरस, पोटास और सल्फर भी बचा रहेगा जो मिट्टी के स्वास्थ्य को दुरुस्त रखेगा. इसके इस्तमाल से किसानों को खेतों में ज्यादा खाद डालने की जरूरत नहीं पड़ेगा. कृषि विभाग के अनुसार अभी जिन 24,000 हेक्टेयर में मौसम अनुकूल खेती की योजना का प्रत्याशित चल रहा है, उन्हीं खेतों में बायोचार कंपोस्ट का भी परीक्षण किया जाएगा. इसके प्रयोग से लाभ की जानकारी किसानों को दी जाएगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें